Vivo Stole Custom Duty Of Rs 2217 Crore DRI Raided And Issued Show Cause Notice Ann


Vivo Custom Duty: डायरेक्टरेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस यानी (DRI) को जानकारी मिली थी कि विवो (Vivo) जो कि चाइनीज मोबाइल कंपनी है वो बिना कस्टम ड्यूटी (Custom Duty) दिए चाइना (China) से अपना सामान भारत ला रही है. डीआरआई को जांच के दौरान पता चला कि विवो कंपनी अब तक तकरीबन 2217 करोड़ रुपये की कस्टम ड्युटी की चोरी कर चुकी है.

मेसर्स विवो इंडिया, विवो कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी की सब्सिडरी कंपनी है जिसका हेडक्वार्टर चीन में है. यह कंपनी मोबाइल हैंडसेट और उसकी एसेसरीज की मैन्युफैक्चरिंग असेंबलिंग और होलसेल ट्रेडिंग से लेकर डिस्ट्रीब्यूशन तक में डील करती है. 

विवो इंडिया के कई ठिकानों पर छापेमारी
डीआरआई सूत्रों के मुताबिक विवो इंडिया के कई ठिकानों पर जब सर्च ऑपरेशन किया गया तब पता चला की कस्टम ड्यूटी चोरी करने के लिए किस तरीके से एक सुनियोजित साजिश तैयार की गई. इस मामले को लेकर डीआरआई ने विवो इंडिया के दफ्तरों से कस्टम ड्यूटी चोरी से संबंधित कई अहम दस्तावेज बरामद किए. इस तरीके से कस्टम ड्यूटी चोरी कर विवो इंडिया ने विवो कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी कॉरपोरेट लिमिटेड को 2217 करोड़ रुपए का फायदा पहुंचाया.

कस्टम विभाग ने कितने रुपये की ड्यूटी चुकाने के दिये आदेश ?
जांच पूरी हो जाने के बाद कस्टम विभाग ने कस्टम एक्ट 1962 (Custom Act 1962) के तहत विवो इंडिया (Vivo India) को नोटिस जारी करते हुए 2217 करोड़ रुपए की कस्टम ड्यूटी (Custom Duty) चुकाने के आदेश दिए. डीआरआई के मुताबिक एम/एस विवो इंडिया ने इसमें से 60 करोड़ रुपये चुका दिए हैं .इसके अलावा डीआरआई ने इसी तरह चाइनीज मोबाइल कंपनी ओप्पो मोबाइल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड को भी 4403.88 करोड रुपए का कस्टम चोरी करने का नोटिस जारी किया हुआ है.

Monsoon Session: सरकार ने वापस लिया पर्सनल डेटा प्रोटेक्शन बिल, लाया जाएगा नया विधेयक

Telangana Politics: तेलंगाना में ‘ऑपरेशन कमल’, टीआरएस और कांग्रेस के 14 विधायक बीजेपी के संपर्क में!



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.