Phd full form in hindi. phd kya hai, phd kaise kare ?

phd full form in hindi
phd full form in hindi

आज का हमारा विषय है कि आखिर पीएचडी क्या होता है, Phd full form in hindi, Phd kya hai और Phd kaise kare.

आप में से कई लोगों ने शायद इस बात को कभी ना कभी सुना होगा किक पीएचडी एक बहुत ही सम्मानजनक और उच्च स्तरीय कोर्स है, क्या आपने कभी इस बारे में गौर किया है की हमारे समाज में कई लोग ऐसे हैं जो मेडिकल के डॉक्टर नहीं हैं पर फिर भी उनके नाम के आगे डॉक्टर लिखा होता है.

ऐसा इसलिए होता है क्योंकि इन लोगों ने Phd की डिग्री हासिल की होती है जिस वजह से उनके नाम के आगे डॉक्टर लिखा होता है.

अगर आप भी उन लोगों में से हैं जो पीएचडी करने के बारे में सोच रहे हैं और पीएचडी करना चाहते हैं तो यह विषय आपके लिए बहुत ही रोचक होने वाला है, क्योंकि आज हम आपको पीएचडी से जुड़ी सारी बारीक जानकारियां देने जा रहे हैं जिनकी मदद से आपके पीएचडी से जुड़ी सारी शंकाएं दूर हो जाएंगी.

तो आइए बिना देरी किए जान लेते हैं कि Phd full form in hindi, पीएचडी क्या होता है और इस डिग्री को हासिल करने के लिए किस प्रकार की तैयारियां करनी होती है.

Phd डिग्री का महत्व.

जैसा कि मैंने शुरुआत में ही कहा Phd एक बहुत ही सम्मानजनक कोर्स होता है जिसे आप अगर सफलतापूर्वक कर लेते हैं तो आपके पास कैरियर के कई सारे विकल्प खुल जाते हैं।

मान लीजिए आप किसी विश्वविद्यालय में प्रोफेसर की नौकरी या प्रोफेसर का पद पाना चाहते हैं तो उसके लिए आपके पास पीएचडी होना अनिवार्य है.

पर यह बात भी सत्य है कि पीएचडी करना आसान नहीं होता. Phd की डिग्री हासिल करने के लिए आप को पहले से ही कठिन परिश्रम और तैयारी करनी होती है. अगर आप चाहते हैं कि आप किसी एक विषय में विस्तृत और गहन जानकारी रखें तो उस विषय में आपको पीएचडी करना बहुत ही लाभदायक सिद्ध होगा।

यह भी पढ़े – क्या है बी.बी.ए ? BBA full form in hindi.

PhD full form in Hindi.

Phd full form in hindi – पीएचडी का फुल फॉर्म होता है डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी, Doctor of Philosophy जिसे हम पीएचडी या डॉक्टर डिग्री के नाम से भी जानते हैं. पीएचडी की डिग्री को कई बार डी फिल, D-phil डिग्री के नाम से भी कहा जाता है. यह 4 से 5 सालों का कोर्स होता है जिसे आप सफलतापूर्वक कर लेते हैं तो अंत में आपको डॉक्टरेट की डिग्री हासिल होती है।

जो भी छात्र मास्टर डिग्री करने के बाद पीएचडी को सफलतापूर्वक कर लेता है उसे उस संबंधित विषय का ज्ञाता माना जाता है और उस विषय में वह छात्र पक्का होता है. पीएचडी की डिग्री हासिल करने के बाद आप एनालिसिस या रिसर्च और के तौर पर भी काम कर सकते हैं।

पीएचडी क्या है, phd kya hai

phd kya hai
phd kya hai

पीएचडी की डिग्री हासिल करना एक बहुत ही गौरवशाली बात होती है और यह बहुत ही उच्च स्तरीय डिग्री होती है. इसे करने के बाद आपके नाम के आगे डॉक्टर की उपाधि लग जाती है जो समाज में बहुत ही गर्व की बात मानी जाती है.

पर एक बात का आपको ध्यान रखना होगा कि अगर आप पीएचडी करना चाहते हैं तो आपके पास मास्टर डिग्री होना अनिवार्य है और अगर मास्टर डिग्री करने के बाद अब सफलतापूर्वक किसी भी एक विषय में पीएचडी कर लेते हैं तो आपको उस विषय का ज्ञाता माना जाएगा.

आज संसार के अधिकतर देशों में पीएचडी को सर्वोच्च डिग्री की उपाधि प्राप्त है और आज वर्तमान में आप अगर किसी भी विश्वविद्यालय में प्रोफेसर की नौकरी करना चाहते हैं तो आपके पास पीएचडी की डिग्री होना अति अनिवार्य है.

आवश्यक योग्यताएं पीएचडी हासिल करने के लिए

पीएचडी करने के लिए आपके पास मास्टर डिग्री होना अनिवार्य है, मतलब पीएचडी करने से पहले आपको स्नातक डिग्री उसके बाद स्नातकोत्तर करना अति आवश्यक होता है.

और सिर्फ यही नहीं स्नातकोत्तर मैं भी आपको कम से कम 55% अंक होना अनिवार्य है पर यह बात भी अलग है की अंको की योग्यताएं अलग अलग विश्वविद्यालयों में अलग अलग होती है।

कैसे करें पीएचडी

यह एक ऐसी डिग्री है जिसे आप अचानक से सोच कर नहीं कर सकते इसे करने के लिए आपको बहुत पहले से ही सोच विचार करना पड़ता है.

जैसे की 12वीं कक्षा मैं ही आपको वह विषय चुन लेना होता है जिसमें आप भविष्य में Phd करना चाहते हैं और इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि आपको उस विषय में रुचि हो वरना आगे चलकर आपको उस विषय का अध्ययन करके पीएचडी की डिग्री हासिल करने में बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा।

अगर आप मन लगाकर और कड़ी मेहनत कर के 12वीं की परीक्षा की तैयारी करते हैं तो इस बात का अवश्य ध्यान रखें कि 12वीं कक्षा पास करते समय आपके न्यूनतम 70% अंक होने चाहिए।

स्नातक डिग्री करें

अगर आप 12वीं की कक्षा को कम से कम 70% या उससे अधिक अंको से सफलतापूर्वक पास कर लेते हैं तब आपको उसके बाद स्नातक डिग्री करनी चाहिए और उसी विषय को चुनना चाहिए।

स्नातक की डिग्री करते समय भी छात्र इस बात का ध्यान रखें की जितना भी समय मिले उस समय को व्यर्थ ना करें और मन लगाकर कड़ी मेहनत से अपना अध्ययन करें और अपने स्नातक डिग्री की परीक्षा को 70% या उससे अधिक अंकों से उत्तीर्ण करें।

जो भी छात्र अपने स्नातक डिग्री के दौरान मन लगाकर पढ़ाई करते हैं उससे उन छात्रों का आधार मजबूत होता है जिसकी बदौलत उन छात्रों को आगे चलकर ज्यादा कठिनाइयों का सामना नहीं करना पड़ता है।

स्नातकोत्तर डिग्री प्राप्त करें

phd full form in hindi

स्नातक डिग्री को सफलतापूर्वक हासिल करने के बाद छात्रों को चाहिए कि वह मास्टर डिग्री के लिए आवेदन करें और अपने मास्टर डिग्री को कम से कम 55% अंकों या उससे अधिक प्रतिशत से पास करें क्योंकि पीएचडी की डिग्री को हासिल करने के लिए योग्यता कम से कम 55% रहती है।

स्नातकोत्तर करते समय एक बात का हमेशा ध्यान रखें कि इस डिग्री को करते समय अपने अध्ययन में जितना ज्यादा हो सके मन लगाएं वरना आगे चलकर आप पीएचडी की योग्यताओं पर खरे नहीं उतर पाएंगे और आपका Phd करने का सपना अधूरा रह जाएगा।

यूजीसी की परीक्षा पास करें

स्नातकोत्तर की डिग्री जब आप सफलतापूर्वक पास कर लेते हैं तो छात्रों को चाहिए कि वह यूजीसी नेट की परीक्षा के लिए आवेदन भरे और उस परीक्षा को पास करें। यूजीसी नेट की परीक्षा के लिए आवेदन भरते समय छात्रों को इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि उनके स्नातकोत्तर की डिग्री में न्यूनतम 55% या उससे अधिक अंक होने चाहिए तभी छात्र यूजीसी नेट की परीक्षा के लिए आवेदन सफलतापूर्वक भर पाएंगे।

अगर आप नहीं जानते हैं कि यूजीसी नेट परीक्षा क्या होती है तो हम आपको बता देते हैं कि यह एक प्रकार की राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा होती है जिसे हर वर्ष 2 बार आयोजित किया जाता है. जो भी छात्र पीएचडी करना चाहते हैं उन्हें इस परीक्षा को उत्तीर्ण करना अति आवश्यक होता है क्योंकि इस परीक्षा को पास करने के बाद ही आप पीएचडी के परीक्षा में भाग ले सकते हैं. जो भी छात्र पीएचडी के लिए शुरुआत से ही कड़ी मेहनत और गहन अध्ययन करते हैं वह छात्र इस परीक्षा को मात्र एक ही बार में सफलतापूर्वक उत्तीर्ण कर लेते हैं

पीएचडी की प्रवेश परीक्षा पास करें

पीएचडी की प्रवेश परीक्षा का आवेदन भरने से पहले छात्र एक बात का अवश्य ध्यान रखें की अलग-अलग विश्वविद्यालयों में अलग-अलग स्तर या उनके अलग-अलग नियमों के हिसाब से ही पीएचडी की परीक्षाओं का आयोजन होता है.

इसलिए छात्र इस बात का ध्यान रखें कि वह जिस भी विश्वविद्यालय से पीएचडी करना चाहते हैं पहले वहां जाकर अच्छे से जानकारी हासिल कर ले उसके बाद ही आवेदन करें क्योंकि आप जिस भी विश्वविद्यालय में आवेदन करेंगे पीएचडी के लिए आपको उनके नियमों के अनुसार ही प्रवेश परीक्षा को उत्तीर्ण करना होगा और यदि आप उन उनके नियमों के हिसाब से पीएचडी की प्रवेश परीक्षा को उत्तीर्ण कर लेते हैं तो आपको उस विश्वविद्यालय में आसानी से पीएचडी करने के लिए दाखिला मिल जाएगा।

किस प्रकार करें पीएचडी की तैयारी

जो भी छात्र भविष्य में सफलतापूर्वक पीएचडी करना चाहते हैं वह एक बात का हमेशा ध्यान रखें कि 11वीं कक्षा पहुंचने से पहले ही वह इस बात का चयन करें कि  उनकी रूचि किस विषय में अधिक है और उन्हें किस विषय में भविष्य में पीएचडी करना है।

क्योंकि छात्रों की रुचि जिस विषय में अधिक होगी उन्हें वह विषय का अध्ययन करने में भी आसानी होगा और भविष्य में पीएचडी करने में भी कोई कठिनाइयां नहीं होगी। जिस भी विषय में आपकी रूचि है उस विषय को लेकर 11वीं पत्र कक्षा को अच्छे से उत्तीर्ण करें उसके बाद 12वीं कक्षा भी जितनी अच्छे अंको से उत्तीर्ण करें उतना बेहतर है उसके बाद स्नातक और स्नातकोत्तर की डिग्री को भी सफलतापूर्वक और अच्छे अंको से उत्तीर्ण करें।

सबसे अहम बात जो छात्रों को हमेशा अपने दिमाग में रखनी चाहिए कि 11वीं से लेकर स्नातकोत्तर तक की डिग्री करने तक आपको जो समय लगेगा वह होगा 6 से 7 वर्षों तक का।
इन वर्षों में पढ़ाई के बीच में छात्रों को जब भी समय मिले तो उन्हें चाहिए कि वह अपने विषय के बारे में ज्यादा से ज्यादा ज्ञान ग्रहण करें और हो सके तो पिछले 5 वर्षों के यूजीसी के परीक्षा पत्रों को भी जुगाड़ करें और उनका भी अध्ययन करें।

सैंपल पेपर और इ-बुक डाउनलोड करे

जैसा कि आप लोग सभी जानते हैं कि आज के इस इंटरनेट के युग में किसी भी चीज का अध्ययन करने या किसी भी सैंपल पेपर को डाउनलोड करना कठिन कार्य नहीं है.

इसलिए जितना हो सके समय निकालकर सर्च करें और अपने विषय को मजबूत करें आज के युग में इंटरनेट में कई सारे ऐसे ही बुक्स, पीडीएफ, क्वेश्चन पेपर उपलब्ध हैं जिनको डाउनलोड करके आप अपने विषय की तैयारी अच्छे से कर सकते हैं यदि आप के पास इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध नहीं है तो आप अपने नजदीकी कोचिंग सेंटर में जाकर वहां से भी क्वेश्चन पेपर या इ-बुक को प्राप्त या डाउनलोड भी कर सकते हैं.

कुछ महत्वपूर्ण पीएचडी के सब्जेक्ट
  • पीएचडी इन हिंदी
  • पीएचडी इतिहास
  • अंग्रेजी
  • सर्जरी
  • एकाउंटिंग
  • एग्रीकल्चर
  • फार्मेसी
  • जूलॉजी
  • होम साइंस
पीएचडी करने के लिए भारत के प्रमुख संस्थान
  • University of Calcutta
  • Amity University Noida
  • Christ University Bangalore
  • Jawaharlal Nehru University
  • Jamia Millia Islamia university New Delhi
  • Banaras Hindu University

हमें पूरी उम्मीद है कि हिंदी मास्टर द्वारा पेश किए गए इस आर्टिकल phd full form in hindi, Phd kya hai को पढ़ने के बाद आपकी पीएचडी से जुड़ी सारी कन्फ्यूजन और डाउट क्लियर हो गए होंगे. पर अगर आपके मन में अभी भी पीएचडी से जुड़े कोई सवाल हैं जिनका जवाब आपको इस पोस्ट में नहीं मिला है तो आप निसंकोच होकर हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं हम अपने हर यूजर के कमेंट का जवाब जरूर देंगे.

और अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई हो तो अपने दोस्तों के साथ इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले

धन्यवाद…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: