सफल पायलट कैसे बने? Pilot kaise bane

Pilot kaise bane
Pilot kaise bane

आज का हमारा विषय काफी रोचक है क्योंकि आज के इस आर्टिकल में हम आपको pilot kaise bane की पूरी जानकारी देने जा रहे हैं, इसलिए अगर आप भी भविष्य में एक सफल pilot बनने का सपना है, तो हमारा आपसे आग्रह है कि हमारे इस पोस्ट को अंत तक पूरा पढ़े ताकि एक सफल पायलट बनने की सारी प्रक्रिया आप अच्छे से समझ पाएं।

दोस्तों हर छात्र का सपना होता है कि भविष्य में वे सफलता की ऊंचाइयों को छुए इसलिए कुछ छात्र आगे चलकर डॉक्टर बनते हैं तो कुछ छात्र इंजीनियर या वैज्ञानिक बनते हैं। पर कई छात्र ऐसे हैं जो भविष्य में Pilot बनने की इच्छा रखते हैं और आसमान की ऊंचाइयों को छूना चाहते हैं, पर कई बार इन छात्रों का सपना अधूरा रह जाता है क्योंकि इनके पास सही जानकारी और मार्गदर्शन नहीं होता जिसकी वजह से इनके पायलट बनने का सपना अधूरा रह जाता है।

आजकल के छात्रों में पायलट बनने की इच्छा इसलिए भी ज्यादा है क्योंकि पायलट की नौकरी में सबसे अधिक वेतन और सुविधाएं प्राप्त होती है। एक पायलट की नौकरी को उच्च दर्जे की नौकरी माना गया है जिसके कारण पायलट को समाज में काफी मान सम्मान भी प्राप्त होता है।

अगर आप भी उन छात्र या युवाओं में से हैं जो भविष्य में एक सफल पायलट बनना चाहते हैं और अपने माता-पिता का नाम रोशन करना चाहते हैं तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है क्योंकि आज किस आर्टिकल में हम पूरी जानकारी देने जा रहे हैं इसको पढ़ने के बाद आपके मन में pilot kaise bane के सवाल को लेकर कोई भी शंका नहीं रहेगी और आप भविष्य में एक सफल पायलट बनने की ओर अपना कदम बढ़ा पाएंगे।

आइए जान लेते हैं कि आखिर एक पायलट कैसे बने?

कैसे बने पायलट ? Pilot kaise bane

Pilot kaise bane
Pilot kaise bane

जो भी छात्र भविष्य में आगे चलकर पायलट बनना चाहते हैं या सोच रहे है की pilot kaise bane उन्हें एक बात का अवश्य ध्यान रखना होगा कि पायलट बनना कोई आसान काम नहीं है हर साल लाखों की तादाद में युवा पायलट बनने के लिए आवेदन करते हैं और उनसे उनमें से कुछ ही युवा ऐसे हैं जो एक सफल Commercial Pilot बन पाते हैं।

जो भी छात्र भविष्य में पायलट बनना चाहते हैं उन्हें सबसे पहले यह तय करना होगा कि वह किस तरह का पायलट बनना चाहते हैं क्योंकि आप भी जानते हैं कि पायलट कई तरह के होते हैं जैसे कि :-

  1. व्यावसायिक वायुयान चालक – Commercial Pilot.
  2. लड़ाकू विमान चालक – Fighter Pilot.
  3. हेलीकाप्टर पायलट – Helicopter Pilot.
  4. कार्गो पायलट – Cargo Pilot

पर आज का जो हमारा विषय है कि Pilot kaise bane उसमें हम आपको भविष्य में छात्र कमर्शियल पायलट कैसे बने उसकी जानकारी देने जा रहे हैं। तो अगर आप भी भविष्य में एक सफल Commercial Pilot बनना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको यह जानना होगा कि एक कमर्शियल पायलट क्या होता है और उसकी क्या-क्या जिम्मेदारियां होती है।

यह भी पढ़े :- IAS क्या है और कैसे बने ?

कमर्शियल पायलट क्या है? What is a Commercial Pilot.

जैसा कि आप सब जानते हैं कि हर देश में प्राइवेट एयरलाइन सर्विसेज होती हैं जो यात्रियों को एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिए अपने विमानों की सेवा प्रदान करती है, उदाहरण के लिए जय हमारे भारत में इंडियन एयरवेज, इंडिगो, एयर इंडिया जैसी एयरलाइंस है जो अपनों विमानों की सेवा यात्रियों को प्रदान करते हैं। जो पायलट इन कंपनियों के विमानों को उड़ाता है और अपनी सेवा इन एयरलाइंस कंपनियों को प्रदान करता है उसे हम कमर्शियल पायलट कहते हैं। जो भी कमर्शियल Pilot इन प्राइवेट संस्थानों के अंतर्गत काम करते हैं उन्हें इंडियन अथॉरिटी (Indian Authority) द्वारा कमर्शियल पायलट का सर्टिफिकेट भी प्रदान किया जाता है जो काफी महत्वपूर्ण माना जाता है।

एक कमर्शियल पायलट का पद काफी महत्वपूर्ण पद माना गया है क्योंकि जब भी एक कमर्शियल पायलट किसी विमान को उड़ाता है और या एक जगह से दूसरी जगह ले कर जाता है तो उसमें कई सारे यात्री सवार होते हैं और उन सभी यात्रियों की जिम्मेदारी उस एक पायलट के कंधों पर होती हैं।

जो भी छात्र भविष्य में एक सफल पायलट बनने का सपना देख रहे हैं उन्हें चाहिए कि दसवीं के बाद 11वीं और 12वीं में साइंस स्ट्रीम लेकर पास करें यानि 11वीं और 12वीं में उन्हें Physics, Chemistry, Maths लेकर पढ़ना अनिवार्य है।

पर जो छात्र किसी कारणवश 12वीं कक्षा में साइंस स्ट्रीम लेकर नहीं पढ़ पाए उन्हें निराश होने की जरूरत नहीं है वह अपनी 12वीं कक्षा पूरी करने के बाद नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन स्कूलिंग से इन सब्जेक्ट को कर सकते हैं उसके बाद वह पायलट के कोर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं।

यह भी पढ़े :- ITI क्या है ? कैसे करे पूरी जानकारी?

पायलट बनने के लिए योग्यता – Eligibility to become a pilot

हमारे आज के इस आर्टिकल में कि Pilot kaise bane मैं अब तक तो आप समझ गए होंगे कमर्शियल पायलट क्या होता है, चलिए अब जान लेते हैं कि एक पायलट बनने के लिए क्या योग्यता अनिवार्य है :-

  1. उम्मीदवारों की कम से कम आयु 17 साल और अधिकतम आयु 32 वर्ष होनी चाहिए।
  2. छात्र को 12वीं कक्षा साइंस स्ट्रीम लेकर पास करना अनिवार्य है।
  3. छात्रों के 12वीं के अंक न्यूनतम 50% होने अनिवार्य है।
  4. जो भी छात्र भारत में कमर्शियल पायलट बनने की इच्छा रखते हैं उनके पास भारत की नागरिकता का प्रमाण होना अनिवार्य है।
  5. छात्रों की लंबाई यानी height कम से कम 5 फीट 2 इंच होना अनिवार्य है।
  6. उम्मीदवारों को अच्छी अंग्रेजी का ज्ञान होना भी अनिवार्य है।
  7. जो भी छात्र पायलट बनना चाहते हैं उन्हें किसी भी प्रकार की आंखों की बीमारी या कमजोरी नहीं होनी चाहिए।

यह भी पढ़े :- GNM कोर्स की पूरी जानकारी

पायलट प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन करें – Apply for Pilot Entrance Exam

Pilot kaise bane में अब आगे जान लेते हैं कि आपको पायलट प्रवेश परीक्षा के लिए कैसे आवेदन करना है। जो भी छात्र या उम्मीदवार अपनी 12वीं कक्षा में साइंस स्ट्रीम के साथ कम से कम 50% अंक लेकर 12वीं कक्षा को सफलतापूर्वक पास कर लेते हैं उन छात्रों को चाहिए कि पायलट बनने के लिए सबसे पहले वे pilot entrance exam के लिए आवेदन भरे.

जब आपका आवेदन स्वीकार हो जाए तब आपको नीचे दिए गए निम्नलिखित परीक्षाओं से गुजरना होगा जिन्हें आप को सफलतापूर्वक पास करना अनिवार्य है अन्यथा आप Pilot बनने के योग्य नहीं होंगे।

  1. लिखित परीक्षा – Written Exam.
  2. चिकित्सा परीक्षण – Medical Examination.
  3. साक्षात्कार – Interview.

लिखित परीक्षा – Written Exam.

प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन करने के बाद छात्रों का सबसे पहले रिटन टेस्ट होता है जिसमें छात्रों से फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण सवाल पूछे जाते हैं जिन्हें पास करना छात्रों के लिए अनिवार्य होता है तभी वे आगे की परीक्षाओं के लिए योग्य हो पाते हैं.

चिकित्सा परीक्षण – Medical Examination.

जो भी छात्र सफलतापूर्वक रिटन टेस्ट को पास कर लेते हैं उनके बाद उन छात्रों का मेडिकल एग्जामिनेशन हुआ होता है जिसमें उनकी शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य की गहन जांच की जाती है आपकी जानकारी के लिए बता दें कि छात्रों का मेडिकल एग्जामिनेशन सिविल एविएशन के डायरेक्टर जनरल (Director General) द्वारा किया जाता है।

साक्षात्कार – Interview.

स्वास्थ्य जांच यानी मेडिकल एग्जामिनेशन को पास करने के बाद आखरी में छात्रों का इंटरव्यू होता है जिसमें उनसे कई तरह के प्रश्न पूछे जाते हैं और जो छात्र इन को सफलतापूर्वक पास कर लेते हैं वह pilot बनने के लिए योग्य कहलाते हैं।

छात्र पायलट लाइसेंस के लिए आवेदन करें – Apply for student pilot license

ऊपर बताई गई सारी परीक्षा को पास करने के बाद जब आपका दाखिला किसी फ्लाइंग इंस्टीट्यूट में हो जाए और वहां सब की पढ़ाई पूरी हो जाए उसके बाद छात्रों को चाहिए कि वह स्टूडेंट पायलट लाइसेंस के लिए आवेदन करें।

जो भी छात्र स्टूडेंट पायलट लाइसेंस के लिए आवेदन करते हैं उनका आवेदन जब शिकार हो जाता है उसके बाद उन छात्रों का एक छोटा सा ओरल टेस्ट होता है जिनमें उनसे कुछ मुख्य सवाल पूछे जाते हैं और यह सवाल मुख्य प्रशिक्षक या फिर डायरेक्टर जनरल द्वारा पूछे जाते हैं।

इस पूरी प्रक्रिया को पूरी करने के बाद जब आपको स्टूडेंट लाइसेंस प्राप्त हो जाए उसके बाद आपको छोटे प्लेन ज्ञानी ग्लाइडर उड़ाने की अनुमति मिलती है।

आपकी विशेष जानकारी के लिए बता दें एक सफल पायलट बनने के लिए आपके पायलट कोर्स के द्वारा आपके कम से कम ढाई सौ घंटे की उड़ान प्रक्रिया पूरी होनी चाहिए तभी आप कमर्शियल पायलट लाइसेंस के लिए आवेदन भर सकते हैं अन्यथा आप कमर्शियल पायलट बनने के योग्य नहीं कहलाएंगे

आइए अब pilot kaise bane में आगे जान लेते हैं कि एक सफल पायलट बनने में उम्मीदवारों को कितना समय लगता है.

पायलट बनने में कितना समय लगता है? How long does it take to become a pilot?

जैसा कि इस आर्टिकल की शुरुआत में ही हमने बताया कि जो भी छात्र पायलट बनने की इच्छा रखते हैं उन्हें सबसे पहले किसी भी फ्लाइंग इंस्टीट्यूशन में एडमिशन लेना होता है। जिसके बाद उन छात्रों को कई सारे परीक्षाओं से गुजरना होता है और उनके बाद उनकी पढ़ाई पूरी होती है. अगर हम भारत की बात करें तो जो उम्मीदवार पायलट बनना चाहते हैं उनकी पढ़ाई और ट्रेनिंग इन सबको मिलाकर कम से कम 3 साल का समय लगता है।

अगर आपकी आर्थिक स्थिति अच्छी है और आप चाहते हैं कि आप जल्दी पायलट बने तो आप विदेश जाकर पायलट बनने की पढ़ाई कर सकते हैं, क्योंकि विदेशों में संसाधनों की कमी नहीं है और अगर आप विदेश में जाकर पायलट बनने की पढ़ाई करते हैं तो आप वहां पर केवल 1 साल के अंदर ही एक योग्य पायलट बन सकते हैं पर ध्यान रहे विदेश में जाकर पायलट बनने की कीमत कहीं ज्यादा अधिक होती है।

Pilot kaise bane मैं अब आगे जान लेते हैं कि एक योग्य पायलट बनने के लिए उम्मीदवारों को अपने एजुकेशन और ट्रेनिंग में कितना खर्चा आएगा।

पायलट शिक्षा लागत – Pilot education cost

अब तक तो आप समझ ही गए होंगे की एक पायलट बनना कोई आसान काम नहीं है खासकर एक कमर्शियल पायलट बनना। क्योंकि अगर आप भारतीय वायु सेना में भर्ती लेते हैं तब आपकी पूरी पढ़ाई की जिम्मेदारी और ट्रेनिंग का खर्चा भारत सरकार द्वारा उठाया जाता है इसलिए आपको आपकी ट्रेनिंग और एजुकेशन में लागत कम आती है, पर भारतीय वायु सेना में चुनाव होना कोई आसान काम नहीं है.

तो वहीं दूसरी तरफ अगर आप एक कमर्शियल पायलट बनना चाहते हैं तो आपकी पढ़ाई और ट्रेनिंग का पूरा खर्चा आपको खुद ही उठाना पड़ता है और आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आज भारत में एक कमर्शियल पायलट बनने में जो खर्चा आता है वह करीबन 30,00,000/- से 45,00,000/- के बीच होता है। यही एक सबसे बड़ी वजह है कि भारत में कई सारे बच्चे हर साल अपने पायलट बनने के सपने को छोड़कर दूसरे रोजगार की तरह मन बना लेते हैं क्योंकि उनके पास इतनी आर्थिक स्थिति नहीं होती है कि वे पायलट बन सके।

pilot kaise bane में अब आगे जान लेते हैं कि इतनी मेहनत और खर्च के बाद जब आप एक सफल कमर्शियल पायलट बन जाते हैं तो आप की मासिक वेतन कितनी होगी यानी आप को हर महीने कितनी सैलरी प्राप्त होगी।

कमर्शियल पायलट की तनख्वाह – Commercial pilot salary

यह सबसे अहम सवाल है जो हर उम्मीदवार के मन में आता है कि आखिर एक सफल कमर्शियल पायलट बनने के बाद उनको मासिक वेतन कितना मिलेगा क्योंकि जैसा कि आप जानते ही हैं कि एक पायलट बनने में काफी खर्च होता है।

तो आप की जानकारी के लिए बता दें कि जब आप एक साथ सफल कमर्शियल पायलट बन जाए तो उसके बाद आप की शुरुआती वेतन यानी मासिक वेतन 1,00,000/- से 1,50,000/- के बीच होती है और जब आपको कुछ सालों बाद अनुभव हो जाए तब एक अनुभवी कमर्शियल पायलट की मासिक वेतन 3,50,000/- से 5,00,000/- के बीच होती है.

भारत में शीर्ष कमर्शियल पायलट कॉलेज, Top commercial pilot colleges in india

Rajiv Gandhi Aviation Academy
Indira Gandhi Rashtriya Uran Akademi (IGRUA)
Madhya Pradesh Flying Club (MPFC)
Ahmedabad Aviation & Aeronautics Ltd. ( AAA)
National Flying Training Institute (NFTI)
Bombay Flying Club
OFAA – Orient Flights Aviation Academy
Government Flying Training School
Top commercial pilot colleges in india
निष्कर्ष, Conclusion

मुझे पूरी उम्मीद है कि हमारा यह आर्टिकल pilot kaise bane को पढ़ने के बाद आपके पायलट बनने के सारे सवालों के जवाब आपको मिल गए होंगे पर अगर अब भी ऐसे कुछ सवाल हैं जिनके जवाब आपको हमारे इस लेख में ना मिले हो तो हमारा आपसे आग्रह है कि आप अपने सवाल हमसे कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपके हर सवालों के जवाब जल्द से जल्द देंगे.

और अगर आपको हमारा यह लेख पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले और साथ ही साथ HIndi Master वेबसाइट के साथ जुड़े और हमारे परिवार का हिस्सा बने.

धन्यवाद.

Leave a Comment