Website क्या है ? What is website in hindi.

What is website in hindi.

What is website in hindi
What is website in hindi

वेबसाइट क्या है, What is website in hindi – आज के इस दौर में अगर हमें किसी भी कंपनी, हॉस्पिटल, सरकारी दफ्तर या किसी भी प्रसिद्ध व्यक्ति के बारे में कुछ भी जानना हो तो हमें यह कहा जाता है कि आप उसकी website पर जाकर देख लो और वहां हमें सब जानकारियां मिल भी जाती है। पर कभी ना कभी हर किसी के मन में यह सवाल आता होगा कि आखिर यह वेबसाइट बनती कैसे हैं और कैसे हर कोई अपनी सारी जानकारियां उस website पर डाल देता है। आज हम आपको website से जुडी हर सवाल का जवाब आपको सरल हिनदी भाषा में देने जा रहे हैं।

website का महत्व –

अगर आपने कभी online shopping किया हो या आप ऑनलाइन शॉपिंग करते हो तो आपको इसे करने के लिए Flipkart, Amazon, Myntra जैसी website पर जाने की जरूरत पड़ती है, जहां पर अलग-अलग सामानों के हिसाब से अलग-अलग webpage बने होते हैं जहां से आप अपने सामान की ऑनलाइन शॉपिंग कर पाते हैं। ठीक उसी तरह जब आप online railway ticket बुक करते हैं या ऑनलाइन बिजली का बिल या आधार कार्ड बनवाते हैं उन सब सारी चीजों के लिए भी आपको किसी भी सरकारी वेबसाइट पर जाने की जरूरत पड़ती है जहां पर जाकर हमारा काम आसानी से हो जाता है।

website से लाभ –

सिर्फ Amazon, Flipkart, Myntra जैसी बड़ी website या कंपनी ही नहीं आजकल छोटे से छोटे व्यापारी भी अपने व्यापार व्यवसाय को बढ़ाने के लिए वेबसाइट का सहारा लेने लगा है, जिससे उसे काफी फायदा भी होता है उदाहरण के लिए मान लीजिए किसी का अपना खुद का होटल है तो वह अपने होटल का प्रचार अपने websiteसे करके और नए कस्टमर पा सकता है ठीक उसी तरह अपने होटल की online order booking की सुविधा भी अपने ग्राहकों को प्रदान कर सकता है।

आज कल website और blog बनाने का सबसे बड़ा फायदा यह भी है कि आप इन वेबसाइट और ब्लॉग के जरिए पैसा भी कमा सकते हैं अगर आपकी द्वारा बनाए गए किसी ब्लॉग या वेबसाइट पर काफी सारे लोग आते हैं और आपने अगर अपने साइट् पर advertisement लगा रखी है तो उसके जरिए भी आपको अच्छी खासी आमदनी हो जाती है।

What is website in Hindi, वेबसाइट क्या है ?

What is website in Hindi – कोई भी Blog या website इंटरनेट के अंदर एक ऐसी जगह यह स्पेस होती है जहां पर कई सारे webpage इकट्ठे रहते हैं, इन्हीं कई सारी वेबपेज को मिलाकर एक वेबसाइट बनती है। जैसे उदाहरण के तौर पर अभी आप हमारे वेबसाइट पर जो यह जानकारी पढ़ रहे हैं वह भी हमारे ही वेबसाइट का एक वेब पेज है।

जब भी आप अपने browser पर कोई web address या किसी वेब एड्रेस का URL डालते हैं तो आपके सामने एक वेब पेज खुलता है और उस वेब पेज पर कई तरह की जानकारियां होती है जैसे कि Sound, Graphic, Video, Animation इन सभी को मिलाकर एक वेब पेज बनता है।

किसी भी ब्लॉग या website को ओपन करने के लिए सबसे पहले आपको उसका URL address या Domain name अपने ब्राउज़र में डालना होता है जिसे डालते ही उस वेबसाइट का पहला पेज खुलता है जिसे हम Homepage कहते हैं। आमतौर पर होम पेज पर उस वेबसाइट या ब्लॉग से जुड़ी हुई जानकारियां दिखाई देती है जैसे कि उस वेबसाइट की latest post उस वेबसाइट के contact details उस वेबसाइट के अलग-अलग वेब पेजेस इत्यादि। और अगर मान लीजिए वह website किसी भी बड़ी ब्रांड या बड़ी कंपनी का है तो उसके होम पेज पर उस कंपनी से जुड़ी हुई प्रमुख जानकारियां आपको दिखाई देंगी।


वेबसाइट के होमपेज की एक और मुख्य विशेषता यह होती है कि आपको होम पेज पर ही उस वेबसाइट के सारे मुख्य वेब पेज के लिंक मिल जाते हैं एक वेबसाइट पर एक या एक से अधिक कितने भी वेबपेजेस हो सकते हैं उदाहरण के तौर पर आप कोई भी website या ब्लॉक को खोलते हैं तो वहां पर सबसे पहले आपको Home, Contact us, About us, Privacy policy इस तरह के वेब पेज के लिंक दिखाई देते हैं।

वेबसाइट के प्रकार / types of website in Hindi –

अगर आप आज किसी भी web designer से इस प्रश्न को पूछेंगे की website के कितने प्रकार होते हैं तो उस वेब डिज़ाइनर का जवाब इस बात पर आधारित होगा कि वह वेब साइट कितने बार अपडेट होती है यानी कितने समय पर अपडेट होती है और क्या वह वेब साइट हर डिवाइस के लिए अनुकूल है जैसे कि Mobile, Tablet इत्यादि। किसी भी वेबसाइट के वेब पेज कितने कितने समय में अपडेट होते हैं इसी आधार पर वेबसाइट की दो कैटेगरी होती हैं।

1. स्टैटिक वेबसाइट / Static website –

Static website पहली कैटेगरी होती है किसी भी वेबसाइट की अगर सरल भाषा में स्टैटिक का अर्थ समझे तो वह होता है ‘स्थिर’। जैसा कि आप उसके नाम से ही समझ गए होंगे स्टैटिक वेबसाइट वह वेबसाइट होती हैं जिनके वेब webpages में कभी भी कोई बदलाव नहीं होता है और उस वेबसाइट में कुछ सीमित वेब पेज एस ही रहते हैं जो हर यूजर के हिसाब से नहीं बदलते और हर यूजर के लिए एक ही रहते हैं। इस तरह के स्टैटिक वेबसाइट के वेब पेज में कभी भी कोई बदलाव नहीं होता और इन्हें बनाना भी काफी सरल होता है एक Static website को बनाने के लिए सिर्फ कुछ साधारण से HTML codes का इस्तेमाल करना होता है जिनका इस्तेमाल करने के बाद इन्हें प्रकाशित कर दिया जाता है। आमतौर पर इस तरह की वेबसाइट पर कुछ सीमित जानकारियां ही रहती है अपने यूजर्स के लिए जैसे कि Company details, contact us, इत्यादि।

2. डायनामिक वेबसाइट / Dynamic website

वहीं दूसरी तरफ Dynamic website स्टैटिक वेबसाइट का बिल्कुल विपरीत रूप होता है क्योंकि डायनेमिक वेबसाइट के अंदर के webpages हमेशा अपडेट होते रहते हैं और उनका कंटेंट हमेशा बदलता रहता है या फिर आप ऐसा भी कह सकते हैं कि उसमें नए कंटेंट हमेशा जुड़ते जाते हैं। इस तरह की वेबसाइट पर दिखाई दिया जाना वाला कंटेंट हर यूजर के हिसाब से अलग-अलग हो सकता है और ऐसे डायनेमिक वेबसाइट में हर कंटेंट समय समय के अनुसार या तो अपडेट किया जाता है या बदला जा सकता है। आप जो हमारे यह वेबपेज अभी पढ़ रहे हैं या हमारे वेबसाइट देख रहे हैं इसे हम डायनेमिक वेबसाइट ही कहेंगे क्योंकि यहां पर कंटेंट समय-समय पर अपडेट होती है और नए कंटेंट जुड़ते चले जाते हैं इसी तरह किसी भी पर्सनल ब्लॉग या कोई भी commercial website जहां पर कंटेंट रेगुलर अपडेट होते हैं उसे हम डायनेमिक वेबसाइट ही कहेंगे।

Facebook

उदाहरण के तौर पर मैं यहां पर आपको में डायनेमिक वेबसाइट के कुछ नाम बताना चाहूंगा जैसे कि flipkart.com, amazon.com ऐसे ही कुछ पॉपुलर shopping website है जो डायनेमिक वेबसाइट का रूप है मान लीजिए अगर मैं amazon.com पर लॉगिन करता हूं किसी सामान के लिए तो जरूरी नहीं है वह सेम वेबपेज आपके लिए भी हो हो सकता है आपका वेबपेज कोई दूसरा हो सकता है । इसीलिए यह सभी वेबसाइट डायनेमिक वेबसाइट होती है इन सबके अलावा कुछ और महत्वपूर्ण वेबसाइट से जो डायनेमिक वेबसाइट कहलाएंगे जैसे की Facbook, Twitter, Reddit यह सब डायनेमिक वेबसाइट के ही उदाहरण है।

ट्विटर पर भी हम जब लॉगइन करते हैं तो हर किसी को ट्विटर पर भी कंटेंट अलग अलग दिखाई देता है उदाहरण के लिए अगर मैं अपने ट्विटर पर लॉगिन करूंगा तो मैं जिसे फॉलो करता हूं मुझे उनके पोस्ट या उनकी टाइमलाइन दिखाई देंगी उसी तरह आप ट्विटर पर लॉगिन करेंगे तो आपने जिन को फॉलो किया है उनके ट्विट्स आपको सामने दिखाई देंगे इसीलिए हम Twitter को डायनेमिक वेबसाइट कहते हैं।

वेबसाइट बनाना क्यों जरूरी है ?

जैसा कि आप सब जानते ही होंगे कि आज की दुनिया में Internet users की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है और हर छोटे से बड़ा काम ऑनलाइन ही होने लगे हैं, तो ऐसे समय में wesite की अहमियत और भी ज्यादा बढ़ जाती है अगर आपको भी अपनी वेबसाइट बनानी है तो सबसे पहले यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपका उद्देश्य क्या है और आप किस उद्देश्य के लिए अपना वेबसाइट बनाना चाहते हैं।

उदाहरण के तौर पर मान लीजिए कि अगर आपका कोई छोटा सा बिजनेस है तो आपके बिजनेस के लिए वेबसाइट बनाना बहुत ही फायदेमंद होगा आप अपने उस वेबसाइट के जरिए ग्राहकों को अपने बिजनेस के बारे में अच्छी तरह से बता पाएंगे और संभवतः नए ग्राहक भी पा सकेंगे आप अपने वेबसाइट के जरिए अपने ग्राहकों को अपने नए प्रोडक्ट्स और अपने बिजनेस की सुविधाओं के बारे में डिटेल में जानकारी दे पाएंगे।

ऐसा नहीं है कि सिर्फ अगर आपका बिजनेस हो तो ही आप wesite बना सकते हैं अगर आपका बिजनेस नहीं है तो भी आप अपना पर्सनल ब्लॉग बना सकते हैं जिसके जरिए आप अपनी आमदनी का एक जरिया भी बना सकते हैं उदाहरण के लिए मान लीजिए आप एक कलाकार है और अपने टैलेंट को अपने ब्लॉग के जरिए प्रमोट कर सकते हैं और अपने उस ब्लॉक को अपने Social media profile से भी जोड़कर अपने वेबसाइट पर लगा सकते हैं जिससे आपको अच्छे खासे फॉलोअर्स मिल जाएंगे जो आपके टैलेंट को सराहेंगे।

Top website developing platform –
  1. Weebly
  2. Joomla
  3. WordPress
  4. Blogger
  5. Tumblr
  6. Medium
  7. Wix
  8. Ghost


तो यह थी दोस्तों what is website in Hindi के बारे में अगले पोस्ट में हम बात करेंगे की वेबसाइट आप कैसे फ्री में बना सकते और कैसे  उससे पैसे कमा सकते हैं।


Hindi Master द्वारा पोस्ट की गई यह जानकारी what is website in Hindi आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर आपको ऊपर बताए गए जानकारियों में कुछ समझ ना आया हो तो भी आप हमसे कमेंट करके पूछ सकते हैं हम अपने हर पाठकों का के हर कमेंट का जवाब जल्द से जल्द देंगे

धन्यवाद……..


















Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: