ITI क्या है ? कैसे करे पूरी जानकारी. ITI kya hai?

ITI की पूरी जानकारी – ITI Kya hai? Full form, Subject, Fees, Trades

ITI kya hai
ITI kya hai

आजकल रोजाना लाखों की तादाद में छात्र रोज इंटरनेट में इस बात पर सर्च करते हैं कि ITI kya hai, आईटीआई कैसे करें, ITI full form. अगर आप भी उन छात्रों में से हैं जो आईटीआई के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारा आपसे आग्रह है कि हमारे इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें जिसमें हम आईटीआई से जुड़ी हर छोटी-बड़ी जानकारी आपके साथ साझा करने जा रहे हैं जिसे पढ़ने के बाद आपके मन में आईटीआई को लेकर कोई भी सवाल नहीं रहेगा।

हर छात्र ने अपने छात्र जीवन में आईटीआई के बारे में कभी ना कभी सुना ही होगा आपकी जानकारी के लिए बता देंगे आईटीआई एक बहुत ही पॉपुलर कोर्स है और इस कोर्स के पॉपुलर होने का सबसे बड़ा कारण यह है कि आईटीआई की फीस काफी कम होती है और आईटीआई के कोर्स को पूरा करने में समय भी काफी कम लगता है. जो भी छात्र सफलतापूर्वक आईटीआई कंप्लीट कर लेता है उसे अच्छी खासी नौकरी भी मिल जाती है।

आईटीआई की और सबसे बड़ी विशेष बात यह है कि इसमें कई प्रकार के ट्रेड (Trade) को चुनने की आजादी और विकल्प मिलती है और हर छात्र अपने पसंद के ट्रेड या सब्जेक्ट को चुनकर आईटीआई कर सकता है।

हमारे समाज में कई छात्र ऐसे होते हैं जिनके पास इतने पैसे नहीं होते कि वह किसी बड़े कॉलेज में जाकर इंजीनियर, डॉक्टर या की वकील पढ़ाई कर सकें ऐसे छात्रों के लिए आईटीआई एक बहुत ही उत्तम विकल्प है अपना सुनहरा भविष्य और कैरियर बनाने का।

चलिए अब आगे जान लेते हैं कि आखिर ITI kya hai ?

यह भी पढ़े :- ANM full form in hindi : क्या है ANM कोर्स?

आईटीआई फुल फॉर्म? ITI full form

ITI kya hai
ITI kya hai

सबसे पहले जान लेते हैं कि ITI full form in hindi क्या होता है, आईटीआई का फुल फॉर्म होता है “Industrial training institute” जिसे हिंदी में “औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान” के नाम से भी जाना जाता है।

जो भी छात्र 8वीं, 10वीं या 12वीं के बाद आईटीआई करने के लिए दाखिला लेते हैं उन छात्रों को उस कोर्स के दौरान इंडस्ट्री लेवल पर काम करने के लिए तैयार किया जाता है और प्रशिक्षण दिया जाता है ताकि भविष्य में वे छात्र किसी भी इंडस्ट्री या व्यावसायिक संस्थान में अच्छी नौकरी पा सके और अपना भविष्य बना सकें।

ITI का Full form जानने के बाद चलिए अब आगे जान लेते हैं की ITI kya hai ? आइडिया में कितने ट्रेड होते हैं और आईटीआई का कोर्स कितने साल का होता है।

यह भी पढ़े :- Kya hai BDO full form in hindi, BDO Kaise bane?

आईटीआई क्या है ? ITI kya hai

ITI kya hai – ITI का पूर्ण रूप “औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान” है और यह एक सरकारी प्रशिक्षण संगठन है जो हाई स्कूल के छात्रों को उद्योग से संबंधित शिक्षा प्रदान करने के लिए जिम्मेदार है। वहीं, कुछ ट्रेडों को 8वीं कक्षा के बाद भी लागू किया जा सकता है। विशेष रूप से, इन संस्थानों की स्थापना उन छात्रों को तकनीकी जानकारी प्रदान करने के लिए की जाती है, जिन्होंने अभी-अभी 10वीं पास की है और उच्च शिक्षा के बजाय कुछ तकनीकी ज्ञान प्राप्त करने में रुचि रखते हैं। ITI की स्थापना रोजगार और प्रशिक्षण महानिदेशालय (डीजीईटी), कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय और केंद्र सरकार द्वारा विभिन्न ट्रेडों में प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए की जाती है।

भारत भर में, कई ITI हैं, दोनों सरकारी और निजी, जो छात्रों को व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान करते हैं। एक बार प्रशिक्षण पूरा होने के बाद योग्य आवेदकों को राष्ट्रीय व्यापार प्रमाणपत्र (एनटीसी) जारी किए जाने के बाद उम्मीदवार अखिल भारतीय व्यापार परीक्षा (एआईटीटी) के लिए उपस्थित होंगे।

एक आईटीआई का मुख्य लक्ष्य अपने उम्मीदवारों को उद्योग के लिए प्रशिक्षित करना, उन्हें काम के लिए तैयार करने के लिए तैयार करना है। इसे संभव बनाने के लिए आईटीआई प्रशिक्षुता पाठ्यक्रम भी संचालित करते हैं।

यह भी पढ़े :- कैसे बने आईपीएस: IPS full form in hindi with complete details

आईटीआई का पाठ्यक्रम, ITI Trades & Subjects

जैसा कि हमने पहले ही बताया की ITI करने के कई सारे फायदे हैं, इसमें सबसे बड़ा फायदा यह है कि आईटीआई कोर्स करने के लिए छात्रों को कई सारे पाठ्यक्रम के विकल्प दिए जाते हैं मुख्यतः आईटीआई को दो कैटेगरी या पाठ्यक्रम में बांटा जाता है engineering courses और non engineering courses यानी इंजीनियरिंग ट्रेड और गैर इंजीनियरिंग ट्रेड.

  1. Engineering Trade – आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जो भी छात्र ITI के इंजीनियरिंग ट्रेड में दाखिला लेते हैं उन छात्रों को ज्यादातर टेक्निकल कोर्स के बारे में जानकारी दी जाती है और टेक्निकल क्षेत्र में प्रशिक्षित किया जाता है .इस कोर्स या ट्रेड में छात्रों को इंजीनियरिंग से जुड़े हुए सब्जेक्ट होते हैं जैसे कि Science, Maths, Physics आदि और इन्हीं सब्जेक्ट के आधार पर उनके कोर्स की पढ़ाई होती है।
  2. Non engineering trade – जैसा कि आप नाम से ही समझ गए होंगे कि इस ट्रेड का इंजीनियरिंग या टेक्निकल ट्रेड से कोई संबंध नहीं है, जो भी छात्र आईटीआई की नॉन इंजीनियरिंग ट्रेड में दाखिला लेते हैं उन्हें नॉलेज, भाषा, skill जैसे अन्य विशेष कोर्स में प्रशिक्षित किया जाता है.

भारत में शीर्ष आईटीआई के पाठ्यक्रम, Top ITI courses in India

Foundryman
Electrician
Plumber
Carpenter
Book binder
Advanced building
Business management
TV and radio mechanic
Hair and skin care
Data entry operator
It and communication system
Food and vegetable processing
Draughtsman
Excavator operator
Hospitality and catering assistant
Front office assistant
Turner
Sweater
Wireman
Electronics mechanic
Let machine operator
Air conditioning mechanic
Stenographer
Sewing
Top ITI courses in India

आईटीआई में ट्रेड का चयन कैसे करें ?, How to choose trade in ITI

जो भी छात्र ITI करने में रुचि रखता है और आईटीआई करना चाहता है वह कोई भी ट्रेड चुनकर अपना आईटीआई का पाठ्यक्रम पूरा कर सकता है. पर हर छात्र को एक बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि हर संस्थान में आईटीआई के हर पाठ्यक्रम का होना संभव नहीं है, इसलिए वे जिस भी संस्थान में आईटीआई के लिए दाखिला लेने जा रहे हैं पहले वहां पर पता कर ले कि वहां पर कौन से कौन से पाठ्यक्रम उपलब्ध है जिसके आधार पर आप अपना दाखिला ले सकें।

यह भी पढ़े :- क्या है CA का फुल फॉर्म ? कैसे बने CA

आईटीआई करने के लिए योग्यता, Eligibility for ITI

किसी भी छात्र के ITI करने की योग्यता इस बात पर निर्भर करती है कि उस छात्र ने कौन सा आईटीआई का ट्रेड लिया है । आमतौर पर आईटीआई के अधिकतर कोर्सेज में एडमिशन लेने के लिए छात्रों का 8वीं, 10वीं या 12वीं तक पास होना अनिवार्य होता है और यह भी निर्भर करता है की उन्होंने किस कोर्स में दाखिला लिया है।

  1. छात्रों का किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10वीं या 12वीं उत्तीर्ण होना अनिवार्य है.
  2. छात्रों का अपने परीक्षा में 35% कुल प्राप्त करना अनिवार्य है.
  3. आईटीआई में दाखिला लेते समय छात्र या उम्मीदवार की आयु 14 से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए.

आईटीआई करने के लिए डाक्यूमेंट्स, Documents for ITI

ITI के किसी भी कोर्स में दाखिला लेने के लिए आपको कुछ डॉक्यूमेंट की जरूरत पड़ती है जो इस प्रकार है :-

  1. छात्र की पासपोर्ट साइज फोटो.
  2. 8वीं 10वीं या 12वीं की मार्कशीट.
  3. पहचान प्रमाण पत्र (आधार कार्ड या ड्राइविंग लाइसेंस).
  4. जाति प्रमाण पत्र.

आईटीआई कैसे करें ? How to do ITI.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चाहे आप आईटीआई सरकारी संस्था से करें या प्राइवेट संस्था से दोनों ही जगह एडमिशन की प्रक्रिया मेरिट बेस (Merit base) पर की जाती है। हर साल आईटीआई छात्रों के चुनाव और उनके एडमिशन के लिए रिटन टेस्ट (Written Test) करवाती है जिसमें जो छात्र सफलतापूर्वक पास होते हैं उनका दाखिला आईटीआई में हो जाता है. पर कुछ प्राइवेट ITI institute ऐसे भी हैं जो बिना किसी रिटन टेस्ट के डायरेक्ट एडमिशन दे देते हैं हालांकि इसके लिए आपको फीस थोड़ी ज्यादा देनी पड़ती है।

जो भी छात्र आईटीआई में एडमिशन लेना चाहते हैं उन्हें चाहिए कि सबसे पहले वे जिस जिले या शहर में रहते हैं वहां पर अपने आसपास के सबसे अच्छे आईटीआई संस्थान के बारे में पहले पता करें उसके बाद अपने राज्य के आधिकारिक आईटीआई की वेबसाइट पर जाकर आवेदन के लिए ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं।

आमतौर पर आईटीआई के लिए ऑनलाइन आवेदन भरने की प्रक्रिया मार्च-अप्रैल के महीने से ही शुरू हो जाती है और इसकी अंतिम तिथि जून तक होती है. आईटीआई में प्रवेश या दाखिले की प्रक्रिया जून और जुलाई महीने से शुरू होती है।

यह भी पढ़े :- MBA क्या है, कैसे करे ?

ITI करने की फीस, ITI Fees.

जिन छात्रों का चयन आईटीआई करने के लिए गवर्नमेंट कॉलेज में हो जाता है उन छात्रों को फीस नहीं देनी पड़ती, तो वहीं दूसरी तरफ जो छात्र प्राइवेट आईटीआई संस्थानों में एडमिशन लेते हैं उन्हें फीस देनी पड़ती है। अब आप सबके मन में यही सवाल उठ रहे होंगे कि अगर आप प्राइवेट संस्थान में एडमिशन लेते हैं तो आपको कितनी फीस देनी पड़ेगी तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हर ITIके प्राइवेट संस्थानों की फीस अलग-अलग होती है।

आईटीआई करने के फायदे, Benefits of ITI

वैसे तो आईटीआई करने के कई सारे फायदे हैं पर आईटीआई करने का जो सबसे बड़ा फायदा है वह यह है कि इसमें छात्रों को थ्योरी सब्जेक्ट से ज्यादा प्रैक्टिकल पर ज्यादा ध्यान दिया जाता है जिससे छात्र अपने काम में ज्यादा कुशल हो पाते हैं, आईटीआई कोर्स करने के लिए यह जरूरी नहीं कि आपकी इंग्लिश अच्छी होनी चाहिए हिंदी मीडियम वाले छात्र भी आसानी से आईटीआई कर सकते हैं। आईटीआई संस्थानों में कोर्स करने के लिए आपको 6 महीने, 1 साल या फिर 2 साल के कोर्स उपलब्ध होंगे जिनमें से आप अपने मन मुताबिक कोर्स का चुनाव कर सकते हैं।

यह भी पढ़े :- SSC की पूरी जानकारी ?

भारत में कितने आईटीआई कॉलेज है ? How many ITI colleges are there in India

हमारी भारत सरकार कई सारी निजी और सरकारी आईटीआई संस्थानों का संचालन स्वयं करती है, चलिए जान लेते हैं कि आखिर हमारे भारत में कितने आईटीआई संस्थान हैं :-

  • CTS प्रशिक्षण के लिए आईटीआई संस्थानों की संख्या – 15,052.
  • सरकारी आईटीआई संस्थान – 2,742.
  • निजी आईटीआई संस्थान 12,316.
  • आईटीआई द्वारा पेश किए गए पाठ्यक्रमों की संख्या – 126.

भारत में शीर्ष आईटीआई संस्थान, Top ITI institutes in India

Sharda Industrial Training Institute Delhi
Government Woman Industrial Training Institute Gurgaon
Government Industrial Training Institute Paharipur
Advance Training Institute ATI kanpur
Industrial Training Institute Bharanpur
Gyan Ganga Polytechnic College Kurukshetra
Govt. Industrial Training Institute woman Ambala
KI Industrial Training Institute Delhi
 Industrial Training Institute woman Faridabad
Ch. Brahm Parkash Industrial Training Institute Delhi
Lala Ami Chand Pvt. ITI Ambala
Govt. Skill Development and Industrial Training Institute Jind Haryana
Top ITI institutes in India
निष्कर्ष, Conclusion

मुझे पूरी उम्मीद है कि हमारे द्वारा पेश किया गया यह आर्टिकल ITI kya hai आपको अच्छा लगा होगा और आईटीआई से जुड़े सारे सवालों के जवाब आपको मिल गए होंगे, पर अब भी अगर आपके मन में आईटीआई से जुड़े कोई सवाल है जिसका जवाब आपको हमारे इस लेख में ना मिले हो तो आप नीचे कमेंट सेक्शन में कमेंट करके अपने सवाल पूछ सकते हैं. हम अपने हर पाठकों के सवालों के जवाब जल्द से जल्द देंगे.

और अगर आपको हमारी यह पोस्ट ITI kya hai अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले और भविष्य में ऐसी रोचक जानकारियों के लिए हमारे वेबसाइट Hindi Master के साथ जरुर जुड़े।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल, Frequently Asked Questions
ITI kya hai ?

आईटीआई एक इंडस्ट्रियल कोर्स है इसका पूरा नाम इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट है जिसे एक खास करके आठवीं से लेकर बारहवीं कक्षा के छात्रों के लिए बनाया गया है.

ITI का पाठ्यक्रम कितने साल का होता है ?

ITI का पाठ्यक्रम 6 महीने, 1 साल या फिर 2 साल का होता है यह निर्भर करता है कि आप कौन सा पाठ्यक्रम का चुनाव करते हैं.

आईटीआई की फीस कितनी होती है ?

हालांकि हर आईटीआई का पाठ्यक्रम एक समान होता है पर हर ITI संस्थान की फीस थोड़ी कम या ज्यादा होती है.

आईटीआई में कौन से ट्रेड सबसे ज्यादा अच्छा है ?

Fitter, welding, architecture assistant, fabrication बहुत ही पॉपुलर कोर्स है.

ITI मैं कुल कितने ट्रेड या पाठ्यक्रम होते हैं ?

आईटीआई में कुल 126 ट्रेड होते हैं.

क्या 12वीं कक्षा के बाद आईटीआई कर सकते हैं ?

जी हां आप 12वीं कक्षा के बाद ITI के लिए आवेदन भर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: