GNM कोर्स की पूरी जानकारी, GNM full form in hindi.

GNM नर्सिंग क्या है और इसे कैसे करे ?

GNM full form in hindi
GNM full form in hindi

दोस्तों आज के आर्टिकल में हम आपको जानकारी देने जा रहे हैं GNM course के बारे में जिसमें हम आपको GNM full form in hindi, GNM kya hai, इसे कैसे करें और इस कोर्स को करने के क्या-क्या फायदे हैं सारी जानकारी हम आपको इस पोस्ट के जरिए देने जा रहे हैं।

अगर आप एक छात्र हैं और चाहते हैं कि भविष्य में अपना कैरियर मेडिकल या नर्सिंग के क्षेत्र में बनाएं तो GNM का कोर्स आप जैसे छात्रों के लिए एक सुनहरा मौका है अपना उज्जवल भविष्य बनाने का. GNM कोर्स करने के बाद आप चाहे तो किसी भी सरकारी या प्राइवेट हॉस्पिटल में नर्स की नौकरी आसानी से कर सकते हैं इसकी सबसे अच्छी बात यह है कि इस कोर्स को लड़के और लड़कियां दोनों कर सकते हैं।

जैसा कि आप सब जानते ही होंगे कि किसी भी अस्पताल या हॉस्पिटल का सबसे महत्वपूर्ण स्टाफ जो होता है वह होता है नर्स का, मरीजों की देखभाल से लेकर डॉक्टरों की मदद तक नर्सों के हाथ में होती है या फिर सरल भाषा में कहा जाए तो बिना नर्स के किसी भी हॉस्पिटल का चलना नामुमकिन है, कई लोग नर्स का अर्थ यह समझ लेते हैं कि नर्स केवल महिला या लड़कियां ही होती है पर यह गलत धरना है।

आज नर्सिंग के क्षेत्र में ANM और GNM जैसे नर्सिंग कोर्स काफी पॉपुलर हो रहे हैं और इन्हें करने के बाद छात्रों को अच्छी खासी नौकरी भी मिल रही है एएनएम नर्सिंग कोर्स के बारे में आपने पहले ही आर्टिकल लिखा हुआ है ANM full form in hindi : क्या है ANM कोर्स.

आइए अब समय बर्बाद न करते हुए पहले जान लेते हैं कि gnm full form in hindi क्या होता है ?

यह भी पढ़े :- IAS क्या है और कैसे बने ?

जीएनएम फुल फॉर्म क्या है ? GNM full form in hindi

GNM full form in hindi
GNM full form in hindi

GNM full form in Hindi होता है “General Nursing And Midwifery”

जो भी छात्र या छात्रा GNM का कोर्स करना चाहते हैं उनकी जानकारी के लिए बता दें कि यह एक डिप्लोमा कोर्स होता है जिसकी अवधि 3 साल और 6 महीने की है। 3 साल की जो अवधि होती है उसमें आपको अपना डिप्लोमा कंप्लीट करना होता है जिसके बाद आपको 6 महीने का इंटर्नशिप (Internship) करना होता है जो कि अनिवार्य है। जो भी छात्र 12वीं कक्षा पास करने के बाद भविष्य में नर्सिंग के क्षेत्र में अपनी रुचि रखते हैं वह इस कोर्स को आसानी से कर सकते हैं।

जो भी छात्र इस कोर्स को सफलतापूर्वक पास कर लेते हैं और अपना इंटर्नशिप भी पूरा कर लेते हैं उन्हें नर्सिंग की फील्ड में अच्छी नौकरी मिलती है और उनकी सैलरी भी काफी अच्छी रहती है।

पर नर्सिंग का कोर्स करने से पहले एक बात का हमेशा ध्यान रखें कि नर्सिंग का काम काफी जिम्मेदारी वाला होता है। जो भी छात्र GNM को कोर्स कर रहे होते हैं उन्हें उस दौरान मरीजों की देखभाल, मेडिकल उपकरणों का उपयोग, मरीजों का पुनर्वास, दवाइयों के बारे में ज्ञान आदि के बारे में पढ़ाया जाता है. उन्हें डॉक्टरों के साथ तालमेल रखना और उनकी हर काम में मदद करना इसके बारे में भी प्रशिक्षित किया जाता है।

GNM कोर्स को सफलतापूर्वक करने के बाद छात्रों को स्टेट नर्स रजिस्ट्रेशन काउंसिल, State nurse registration council में रजिस्ट्रेशन करना होता है जिसके बाद वह पूरे देश में या किसी भी राज्य में प्राइवेट या सरकारी अस्पताल में नर्स की नौकरी के लिए आवेदन भर सकते हैं।

GNM full form in hindi को जानने के बाद आइये अब जान लेते हैं इस कोर्स को करने के लिए योग्यता क्या है ?

यह भी पढ़े :- ITI क्या है ? कैसे करे पूरी जानकारी?

जीएनएम कोर्स करने की योग्यता, Eligibility to do GNM

जैसा कि आप सब जानते ही होंगे कि किसी भी कोर्स को करने के लिए सरकारी या प्राइवेट संस्थानों द्वारा कुछ मापदंड तय किए जाते हैं उनके आधार पर ही छात्र उनको पूरा कर सकते हैं GNM के लिए भी कुछ योग्यताएं हैं जिन को पूरा करने के बाद ही आप उसके लिए योग्य हो पाएंगे, आपकी जानकारी के लिए हमने नीचे विस्तार में GNM की योग्यता के बारे में जानकारी दी है।

  1. जो भी छात्र GNM के लिए आवेदन भर रहे हैं उनकी उम्र 17 साल से कम नहीं होनी चाहिए।
  2. अधिकतम आयु सीमा 35 वर्ष की है और अगर आप 35 वर्ष से ऊपर की है तो आप GNM नहीं कर सकते।
  3. छात्रों को 12वीं कक्षा साइंस स्ट्रीम से पास करना अनिवार्य है इसलिए अगर आप दसवीं कक्षा में है और भविष्य में जीएनएम का कोर्स करना चाहते हैं तो आपको साइंस यानि फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी लेकर 12वीं पास करना पड़ेगा।
  4. जो भी छात्र 12वीं कक्षा किसी और स्ट्रीम से लेकर पास किए हैं जैसे कि कॉमर्स या आर्ट्स वे भी GNM कोर्स के लिए आवेदन भर सकते हैं पर साइंस स्ट्रीम वाले छात्रों को पहली प्राथमिकता दी जाती है।
  5. छात्रों को बारहवीं कक्षा कम से कम 40 से 50% में पास करना अनिवार्य है।
  6. अगर छात्र चाहे तो दसवीं कक्षा के बाद भी GNM कोर्स कर सकते हैं पर हमारे हर छात्र को यही सलाह होगी कि आप 12वीं कक्षा पूरी करने के बाद ही GNM या किसी भी अन्य नर्सिंग का कोर्स करें.

यह भी पढ़े :- Kya hai BDO full form in hindi?

कैसे करें जीएनएम नर्सिंग, How to do GNM Nursing

जो भी छात्र या छात्राएं भविष्य में GNM का कोर्स करने की इच्छा रखते हैं उन्हें चाहिए कि सबसे पहले वे अपने 10वीं और 12वीं की पढ़ाई पूरी करें आप चाहें तो कोई भी सब्जेक्ट लेकर पूरी कर सकते हैं, पर हमारी सलाह आपको होगी कि आप साइंस स्ट्रीम लेकर ही अपनी 12वीं कक्षा पूरी करें ताकि आप जब कॉलेज में एडमिशन के लिए जाएं या GNM के लिए आवेदन करें तो आपको पहली प्राथमिकता मिले.

आज इस समय भारत में कई सारे ऐसे सरकारी और प्राइवेट संस्थान है जहां पर आप बड़ी ही आसानी से GNM के कोर्स के लिए दाखिला ले सकते हैं आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत में कई सारे मेडिकल कॉलेज ऐसे भी हैं जो 12वीं के बाद आपको डायरेक्ट GNM के कोर्स के लिए दाखिला दे देते हैं पर वह निर्भर करता है आप के 12वीं के मार्क्स पर।

एक बात का हमेशा ध्यान रखें के GNM के लिए आपको सरकारी या प्राइवेट संस्थान में दाखिला मिलेगा कि नहीं यह निर्भर करता है आप के 12वीं के प्रतिशत पर इसलिए आप अगर भविष्य में नर्सिंग का कोर्स करने की इच्छा रखते हैं तो आपको 12वीं में अच्छी मेहनत करनी पड़ेगी और अच्छे अंको से 12वीं को पास करना पड़ेगा.

पर अगर आप चाहते हैं कि आप भारत के उन कॉलेज में दाखिला लें जो सबसे अच्छे हैं तो वहां पर आपको डायरेक्ट एडमिशन नहीं मिलेगा उन कॉलेजों में एडमिशन के लिए आपको पहले एंट्रेंस एग्जाम देना पड़ेगा उसके बाद आपका इंटरव्यू लिया जाएगा उसके बाद मेरिट बेस में लिस्ट बनेगी जिसके बाद ही आपका दाखिला हो पाएगा.

जीएनएम पाठ्यक्रम, GNM syllabus

जैसा की इस आर्टिकल के शुरुआत में ही हमने आपको बताया था कि जीएनएम का कोर्स 3 साल और 6 महीने का होता है जिसमें 3 साल की आपकी एकेडमी की पढ़ाई होती है और उसे पास करने के बाद 6 महीने की आप की इंटर्नशिप होती है,

तो चलिए जान लेते हैं कि इन 3 साल और 6 महीनों में आपको क्या-क्या पढ़ाया जाएगा और GNM का पाठ्यक्रम क्या होता है ?

First Year, पहला साल
Subject
Anatomy & Physiology
Microbiology
Behavioural Sciences
Psychology
Sociology
Fundamentals of Nursing
First Aid
Personal Hygiene
Community Health Nursing
Environmental Hygiene
Nutrition
English
Second Year, दूसरा साल
Subject
Medical Surgical Nursing – I
Medical Surgical Nursing – II
Mental Health & Psychiatric Nursing
Computer Education
Final Year, अंतिम वर्ष
Subject
Midwifery and Gynaecology
Community Health Nursing – II
Paediatric Nursing
Internship, इंटर्नशिप
Educational Method & Media
Introduction to Research
Professional Trends & Adjustment
Administration and Ward Management
Health Economics
जीएनएम पाठ्यक्रम, GNM syllabus

जीएनएम सैलरी? GNM salary

अब बात कर लेते हैं सबसे अहम सवाल ने की जीएनएम नर्सिंग कोर्स को करने के बाद जब नौकरी मिलेगी तब उसमें तनखा कितनी होगी तो आप की जानकारी के लिए बता दें कि अगर आप किसी प्राइवेट संस्थान में नर्स की नौकरी करते हैं जीएनएम के कोर्स के बाद तो आप की मासिक तनख्वाह 25,000/- से लेकर 35,000/- तक हो सकती है, तो वहीं दूसरी तरफ अगर आप किसी संस्कारी सरकारी संस्थान में नौकरी करते हैं तो वहां पर आपकी तनख्वाह 30,000 से लेकर 40,000 के बीच में होगी और साथ ही साथ आपको सरकार के द्वारा काफी सारी सुविधाएं भी दी जाएगी.

जीएनएम के बाद नौकरी, Jobs after GNM

Staff Nurse, स्टाफ नर्स
Health Care Worker, स्वास्थ्य कार्यकर्ता
School Nurse, स्कूल की नर्स
Community Health Nurse, सामुदायिक स्वास्थ्य नर्स
Home Nurse, होम नर्स
Industrial Nurse, औद्योगिक नर्स
Ward Nurse, वार्ड नर्स
जीएनएम के बाद नौकरी, Jobs after GNM

हमें पूरी उम्मीद है कि हमारे इस आर्टिकल GNM full form in hindi को पढ़ने के बाद आपके GNM से जुड़े सारे सवालों के जवाब आपको मिल गए होंगे अगर हमारे आर्टिकल आपको पसंद आया तो इसे सोशल मीडिया में जरूर शेयर करें.

धन्यवाद.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: