2021 में भारत की जनसंख्या कितनी है. Bharat ki jansankhya kitni hai.

Bharat ki jansankhya kitni hai
Bharat ki jansankhya kitni hai

हम सभी भारतीयों के मन में कभी ना कभी यह सवाल जरूर आया होगा कि हमारे भारत की जनसंख्या कितनी, Bharat ki jansankhya kitni hai है या फिर भारत के विभिन्न राज्यों की जनसंख्या कितनी होगी? अगर आप भी इंटरनेट में इन सब सवालों के जवाब ढूंढ रहे हैं तो आज हम इस पोस्ट के माध्यम से आप उन सभी सवालों के जवाब आपको देने जा रहे हैं इसलिए हमारा आपसे आग्रह है कि इस पोस्ट को पूरा पढ़ें।

अगर क्षेत्रफल की बात की जाए तो हमारा भारत पूरे विश्व में सातवें नंबर पर आता है और जहां तक बात जनसंख्या की यानी population की है तो जनसंख्या के मामले में हमारा भारत पूरे विश्व में दूसरे नंबर पर आता है। संयुक्त राष्ट्र की एक ताजा रिपोर्ट के मुताबिक जिस तेजी से भारत की जनसंख्या बढ़ रही है तो 2040 के आते-आते तक भारत जनसंख्या के मामले में चाइना को पीछे छोड़ते हुए दुनिया का पहला सबसे अधिक जनसंख्या वाला देश बन जाएगा।

चलिए अब आगे जान लेते हैं कि Bharat ki jansankhya kitni hai और अन्य रोचक जानकारियां.

यह भी पढ़े :- (2021) UP की जनसंख्या कितनी है?

भारत की जनसंख्या कितनी है, Bharat ki jansankhya kitni hai.

वर्त्तमान में भारत की जनसँख्या – 138.02 करोड़ है.

जैसा कि आप सब जानते ही होंगे हमारे भारत में कुल 29 राज्य है जिसमें से मात्र 8 राज्य ऐसे हैं जो केंद्र शासित प्रदेश है। हर देश की आबादी को जानने के लिए उस देश में जनगणना कराई जाती है उसी के माध्यम से पता लगाया जाता है किस देश की जनसंख्या कितनी है.

हमारे भारत में भी हर 10 साल में एक बार जनगणना होती है, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत में सबसे पहली बार जनगणना ब्रिटिश राज में हुई थी सन 1972 में हुई थी. उसके बाद जब से देश आजाद हुआ तब से भारत में हर 10 साल में एक बार जनगणना कराई जाती है। इस समय भारत में जब आखरी बार जनगणना हुई थी यानी सन 2011 में तब उस समय भारत की जनसंख्या थी 122 करोड़ जो कि पूरे विश्व की कुल जनसंख्या का 18% है ।

ऐसा जरूरी नहीं है की जनसंख्या हमेशा बढ़ती ही जाती है उदाहरण के लिए सन 2001 से 2011 के बीच में जो जनगणना की गई थी तब उस समय जनसंख्या वृद्धि में कमी पाई गई थी. उस समय की जनगणना के अनुसार जनसंख्या वृद्धि दर 2.13% से घटकर 1.69% हो गई थी।

Bharat ki jansankhya kitni hai की अधिक जानकारी के लिए हमने आपके लिए 1965 से लेकर 2020 तक का डाटा तैयार किया है जो इस प्रकार है :-

YearIndia Population (Cr.)World PopulationIndia
Global Rank
2020138.0277947987392
2019136.6477134681002
2018135.2676310910402
2017133.8675478589252
2016132.4574640220492
2015131.0173797971392
2010123.4269568236032
2005114.7665419070272
2000105.6561434938232
199596.3957442129792
199087.3253272310612
198578.4348709217402
198069.8944580035142
197562.3140794806062
197055.5137004370462
196549.9133395835972
Bharat ki jansankhya kitni hai (Source – Worldometer.info)

भारत के प्रमुख राज्यों की जनसंख्या

अभी तक तो आप यह समझ गए होंगे कि हमारे भारत की जनसंख्या कितनी है, चलिए अब आगे जान लेते हैं कि हमारे भारत के कुछ प्रमुख राज्यों की जनसंख्या कितनी है । जैसा कि इस पोस्ट की शुरुआत नहीं मैंने कहा था कि हिंदुस्तान यानी भारत में कुल 29 राज्य हैं और उन सभी राज्यों में उत्तर प्रदेश सबसे बड़ा राज्य है और अगर भारत के सबसे कम आबादी और सबसे छोटे राज्य की बात करें तो वह है सिक्किम।

STATESPopulatiion as per  2011 Census
Uttar Pradesh 19 करोड़ 80 लाख
Maharashtra 11 करोड़ 22 लाख
Bangal 09 करोड़ 12 लाख
Bihar 10 करोड़ 39 लाख
Tamil Nadu 07 करोड़ 19 लाख
Karnataka 06 करोड़ 10 लाख
Madhya Pradesh09 करोड़ 12 लाख
Rajasthan06 करोड़ 80 लाख
Odisha04 करोड़ 18 लाख
Gujarat06 करोड़ 13 लाख
Andhra Pradesh04 करोड़ 92 लाख
Kerala03 करोड़ 32 लाख
Assam03 करोड़ 11 लाख
Telangana03 करोड़ 50 लाख
Punjab02 करोड़ 76 लाख
Jharkhand03करोड़ 28 लाख
Chhattisgarh02 करोड़ 56 लाख
Jammu and Kashmir01 करोड़ 26 लाख
Uttarakhand01 करोड़ 01 लाख
Haryana02 करोड़ 50 लाख
Meghalay29 लाख 62 हज़ार 
Nagaland19 लाख 78 हज़ार 
Manipur27 लाख 20 हज़ार 
Tripura36 लाख 71 हज़ार 
Sikkim06 लाख 07 हज़ार 
Arunachal Pradesh13 लाख 82 हज़ार 
Goa14 लाख 57 हज़ार 
Mizoram10 लाख 90 हज़ार 
भारत के प्रमुख राज्यों की जनसंख्या, Bharat ki jansankhya kitni hai

भारत की जनसंख्या का पूर्वानुमान, India’s population forecast

अब भारत की जनसंख्या और उसके प्रमुख राज्यों की जनसंख्या के बारे में जानने के बाद चलिए अब जान लेते हैं कि आने वाले कुछ सालों में भारत की जनसंख्या कितनी होगी.

जी हां वर्तमान की जनसंख्या जानने के अलावा हमें आने वाले समय में Bharat ki jansankhya कितनी होगी इसकी जानकारी भी रखना अनिवार्य है। जैसा कि आप लोग आजकल टीवी चैनलों के माध्यम से सुनी रहे होंगे कि सरकार जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कई सारे जागरूक अभियान चला रही है और आजकल तो लोगों ने अपना नारा ही बना लिया है कि छोटा परिवार सुखी परिवार यही एक कारण है कि इस समय जनसंख्या बढ़ोतरी में काफी कमी देखी जा रही है हालांकि अभी जनसंख्या वृद्धि दर काफी अधिक है जो कि बहुत ही अधिक खतरे की बात है.

तो चलिए अब जान लेते हैं आने वाले समय में Bharat ki jansankhya कितनी होगी :-

YearIndia Population (Cr.)India
Global Rank
 
2020138.022
2025144.502
2030150.361
2035155.371
2040159.261
2045162.061
2050163.911
भारत की जनसंख्या का पूर्वानुमान, India’s population forecast (Source – Worldometer.info)

भारत का क्षेत्रफल

Bharat ki jansankhya kitni hai यह जानने के बाद अब यह प्रश्न भी बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण है कि भारत का क्षेत्रफल आखिर कितना है. इस प्रश्न की जानकारी की हर भारतीय को होनी चाहिए और जाहिर सी बात है अगर भारत विश्व का सातवां सबसे बड़ा देश है तो छेत्रफल के मामले में भी यह काफी बड़ा होगा. अगर आप नहीं जानते तो चलिए हम आपको बता देते हैं। भारत का कुल क्षेत्रफल है 3.287 million km2. चलिए अब आगे जान लेते हैं विश्व के 10 सबसे बड़े क्षेत्रफल वाले देश कौन से है?

COUNTRYAREA (Km2)
Russia17899462
Canada9848706
China9469196
USA9624760
Brazil8651677
Australia7729204
India3287623
Argentina2678425
Kazakistan2814902
Aljeria2280740

भारत की बढ़ती जनसंख्या का नुकसान

जिस रफ्तार से Bharat ki jansankhya दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है तो वह समय दूर नहीं कि भारत चाइना को पीछे छोड़ते हुए दुनिया का सबसे बड़ा जनसंख्या वाला देश बन जाएगा।

इस समय चाइना की कुल जनसंख्या 143 करोड़ है पर यह भी सच है कि चाइना जैसे बड़े राष्ट्र ने कई सारे ऐसे बड़े और सख्त कदम उठाए हैं जिसके कारण उन्होंने अपनी बढ़ती जनसंख्या पर कहीं हद तक काबू पा लिया है। जिस तरह की कोशिशें चाइना कर रहा है भारत को भी इसी तरह के प्रयास करने की सख्त आवश्यकता है, वैसे देखा जाए तो भारत में रहने वाले कई लोग जनसंख्या की जागरूकता को लेकर काफी गंभीर है और सरकार भी कई तरह के प्रयास कर रही है।

पर बढ़ती जनसंख्या के कई सारे नुकसान भी है जैसे-जैसे जनसंख्या बढ़ती जाएगी रोजगार के अवसर खत्म होते जाएंगे, शहरों और गांवों का विस्तार होता जाएगा जिसके कारण जंगलों को काटा जाएगा जिसके कारण पानी की गंभीर स्थिति उत्पन्न हो सकती है। जंगल और पेड़ों की कमी से वातावरण में प्रदूषण भी काफी बढ़ता जाता है।

आज अपने क्या जाना ?

हमारे इस पोस्ट को पढ़ने के बाद हमें पूरा विश्वास है कि आपके मन में Bharat ki jansankhya kitni hai को लेकर अब कोई सवाल यह प्रश्न नहीं होगा आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हमारे भारत के पड़ोसी मुल्क यानी पाकिस्तान की कुल आबादी के बारे में अगर आप जानना चाहते हैं तो हमारा लेख Pakistan ki jansankhya kitni hai को आप पढ़ सकते हैं, वैसे बता दें कि पाकिस्तान की कुल आबादी 22 करोड़ के आसपास है और वह विश्व का पांचवा देश है जिसकी आबादी सबसे अधिक है

अगर अभी आपके मन में Bharat ki jansankhya को लेकर कोई भी सवाल है तो आप निसंकोच होकर हमें कमेंट बॉक्स कमेंट करके संपर्क कर सकते हैं हम आपके हर कमेंट का जवाब जल्द से जल्द है पर अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आया तो प्लीज इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले.

ये भी पढ़े :-

भारत में कितने राज्य है उनके नाम ?

भारत का क्षेत्रफल कितना है

क्या है CA का फुल फॉर्म. CA Full Form in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: