Uttar Pradesh Hospital Denied Ambulance Father Carried Son Body On Shoulder In Prayagraj


Uttar Pradesh News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के प्रयागराज (Prayagraj) में मानवता को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है. जहां अस्पताल से एम्बुलेंस (Ambulance) नहीं मिलने पर बेबस पिता को भारी बारिश के बीच बेटे का शव कंधे पर रखकर कई किलोमीटर तक पैदल जाने पर मजबूर होना पड़ा. इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल होने के बाद अधिकारियों में हड़कंप मच गया है. 

आपको बता दें कि पीड़ित बजरंगी यादव के बेटे शुभम को बिजली का करंट लगने के बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. पीड़ित पिता ने बताया कि उन्होंने एम्बुलेंस के लिए अस्पताल के कर्मचारियों से संपर्क किया, तो उन्होंने इसके बदले पैसे की मांग की, जो वह अदा करने में समर्थ नहीं थे.

सेना के जवानों ने की मदद

अस्पताल से एम्बुलेंस नहीं मिलने पर बेबस पिता अपने बेटे के शव को कंधों पर लेकर घर के लिए निकल पड़े. अस्पताल से दो किलोमीटर दूर नए पुल के नजदीक उन्हें सेना के कुछ जवान मिले जिन्होंने उनके लिए एम्बुलेंस दिलाने में मदद की. सेना की मदद से पिता अपने बेटे के शव को अपने गांव ले आए.

अधिकारियों में मचा हड़कंप

बता दें की मानवता को शर्मसार करने वाली इस घटना का वीडियों सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद से अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए हैं. इस मामले से जुड़े सभी अधिकारी अपना पल्ला झाड़ने में लगे हुए हैं. वहीं इस शर्मसार घटना के बाद स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक डॉ.अजय सक्सेना ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि इस घटना से अस्पताल प्रशासन को कोई लेनादेना नही है.

वहीं, सीएमओ ने इस मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं. इस मामले में शव का पोस्टमार्टम कराने वाले पुलिसकर्मियों की लापरवाही की बात भी सामने आ रही है. इस घटना को लेकर पुलिस कमिश्नर ने कहा कि इस मामले की जांच की जा रही है और जांच में अगर कोई दोषी पाया जाता है तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी.

इसे भी पढ़ेंः-

UK PM Election: ऋषि सुनक ने इस्लामी चरमपंथ को बताया ब्रिटेन के लिए ‘सबसे बड़ा खतरा’, कड़ी कार्रवाई का किया वादा

Commonwealth Games 2022: इन खिलाड़ियों ने जीता भारत के लिए मेडल, ऐसा रहा छठा दिन



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.