Punjab Bus Service Punjab Bus Permit Private Bus Operators Gave Ultimatum To Punjab Government ANN


Punjab Bus News: पंजाब की तमाम प्राइवेट बस सर्विस ऑपरेटरों ने आज यानी शुक्रवार को पंजाब सरकार को अल्टीमेटम दिया है. ऑपरेटरों ने कहा है कि उनकी मांगों को पूरा किया जाए साथ ही उनकी मांग पूरी नहीं होती है तो 9 अगस्त को पूरे पंजाब में प्राइवेट बस बंद रखी जाएंगी. 9 अगस्त से 14 अगस्त तक सभी प्राइवेट बस ड्राइवर अपनी बसों पर काला झंडा लगाकर विरोध-प्रदर्शन करेंगे. 14 अगस्त को एक बस को आग लगाकर भी विरोध-प्रदर्शन किया जाएगा और अगर फिर भी सरकार नहीं मानी तो 16-17 अगस्त को पंजाब सरकार के खिलाफ कोई बड़ा फैसला लिया जाएगा. 

प्राइवेट बस ऑपरेटरों की सरकार से ये मांगें 
प्राइवेट बस ऑपरेटरों ने पंजाब सरकार के सामने मांग रखी है कि 2021 के आखिरी 4 महीने का टैक्स पंजाब सरकार ने माफ करने की बात कही थी, लेकिन अभी तक भी वो टैक्स माफ नहीं हुआ है. अब वह टैक्स पंजाब के ट्रांसपोर्टरों का माफ किया जाए. पंजाब में महिलाओं का मुफ्त सफर बंद किया जाए और सोमवार से शुक्रवार तक सभी बसों में महिलाओं से किराया लिया जाए. इसी के साथ शनिवार और रविवार को प्राइवेट बसों में भी महिलाओं का सफर फ्री हो और जैसे पंजाब रोडवेज की बसों को पैसे मिलते हैं, वैसे ही प्राइवेट ऑपरेटरों को भी पैसे मिले.

CM Mamata Meets PM Modi: सीएम ममता बनर्जी ने पीएम मोदी से की मुलाकात

मौजूदा किराये में बढ़ोतरी की जाए
पंजाब में बसों के मौजूदा किराये में बढ़ोतरी की जाए. अगर उस किराए में बढ़ोतरी नहीं की जाती तो पंजाब सरकार बस ऑपरेटरों को हर महीने भरे जाने वाले टैक्स में छूट दे. पंजाब के ऑपरेटरों का जो टैक्स अभी बाकी है उसके लिए वन टाइम सेटेलमेंट पॉलिसी लाई जाए, जिससे जो ऑपरेटर अपना टैक्स नहीं भर पाए वह भी अपना टैक्स भर सकें.

पंजाब में प्राइवेट बसों का कितना टैक्स? 
पंजाब में जब भी कोई नया परमिट लेता है तो उसके लिए उस ऑपरेटर को 2750 रुपये प्रति किलोमीटर के हिसाब से लाइफ टाइम का एक टैक्स देना पड़ता है. मान लीजिए बठिंडा से लुधियाना 100 किलोमीटर दूर है और एक बस दिन में दो बार लुधियाना जाती है. ऐसे में बस 400 किलोमीटर चलेगा. इस हिसाब से एक बस ऑपरेटर को 400 X 2750 के हिसाब से 11 लाख रुपये टैक्स परिमट देना होगा.

टैक्स का गणित
इसी के साथ ही राज्य में जो आम बसें चलती हैं उन का हर रोज का 2.86 पैसे प्रति किलोमीटर का टैक्स लगता है, जो एक महीने के 26 दिन का देना पड़ता है. जैसे 2.86 X 400= 1144 रुपये  प्रति दिन. वहीं  26 दिन के हिसाब से 1144 X 26= 29744 रुपये महीने का टैक्स सरकार को देना होता है. पंजाब के बस ऑपरेटर हर रोज देने वाले इस टैक्स को 2.86 पैसे से कम कर कर केवल 1 रुपये और महीने में केवल 20 दिन का टैक्स करवाना चाहते हैं. इस समय पंजाब में कुल 5800 के करीब बसें हैं, जिस में से 2600 सरकारी और 2200 के करीब प्राइवेट बसें हैं. राज्य में 4400 करीब  मिनी बसें हैं, जिनमे से 150 सरकारी और बाकी प्राइवेट हैं.

Congress Protest: महंगाई, बेरोजगारी के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन, राहुल-प्रियंका समेत कई नेता हिरासत में लिए गए

 



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.