Maharashtra ED To Question Sanjay Raut Again Today In Presence Of Shiv Sena MP Lawyer


Sanjay Raut Arrested In Money Laundering Case: प्रवर्तन निदेशालय (ED) मनी लॉन्ड्रिंग मामले (Money Laundering Case) में शिवसेना (Shiv Sena) सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) से उनके वकील (Lawyer) की मौजूदगी में पूछताछ करेगी. सुबह 8:30 से 9:30 के बीच में संजय राउत के वकील उनसे मिलने ईडी कार्यालय पहुंचेगे और फिर ईडी 9:30 बजे के बाद से वकील के सामने संजय राउत से पूछताछ करेगी. इससे पहले मुंबई की स्पेशल कोर्ट ने मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में गिरफ्तार संजय राउत को सोमवार को चार अगस्त तक के लिए ईडी की हिरासत में भेज दिया. ईडी ने राउत की आठ दिन की हिरासत मांगी थी. 

बता दें ईडी ने मुंबई की एक चॉल के पुनर्विकास में कथित गड़बड़ियों से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में रविवार की रात शिवसेना सांसद संजय राउत को गिरफ्तार किया था. गिरफ्तारी से पहले ईडी ने राउत के आवास पर करीब नौ घंटे तक छापेमारी की, जिसमें 11.5 लाख रुपये नकद जब्त किए गए. 

उद्धव ठाकरे ने साधा बीजेपी पर निशाना 
इस बीच शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सोमवार को शिवसेना नेता संजय राउत को गिरफ्तार किए जाने को लेकर बीजेपी पर निशाना साधा. उन्होंने राउत को ऐसा ‘‘सच्चा शिवसैनिक’’ करार दिया जो दबाव के आगे नहीं झुका. शिवसेना प्रमुख ने कहा कि केंद्र की सत्ताधारी पार्टी क्षेत्रीय दलों को खत्म करने की साजिश रच रही है. उन्होंने यह बात बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा की उस टिप्पणी पर कही जिसमें उन्होंने कहा था कि परिवार संचालित दल खत्म हो जाएंगे.

बता दें पिछले हफ्ते, जे पी नड्डा (J P Nadda) ने कहा था कि आने वाले समय में विचारधारा से चलने वाली बीजेपी (BJP) जैसी पार्टी ही बचेगी, जबकि परिवारों द्वारा शासित अन्य दल खत्म हो जाएंगे. उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने कहा, “यह (नड्डा का बयान) बहुत खतरनाक और गंभीर है. उनकी टिप्पणियां देश को तानाशाही (Dictatorship) और निरंकुशता की ओर ले जाने का संकेत देती हैं. आज की राजनीति चिंताजनक है.”

यह भी पढ़ें:

Sanjay Raut News: संजय राउत के समर्थन में कुछ यूं तल्ख बोले राहुल गांधी, ‘तानाशाह सुन ले, अंत में ‘सत्य’ जीतेगा, अहंकार हारेगा’

Sanjay Raut News: ‘उद्धव ठाकरे मजबूत…’, ED की रिमांड के बाद संजय राउत के भाई की पहली प्रतिक्रिया



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.