क्या है CA का फुल फॉर्म. CA Full Form in hindi.

क्या है CA Full Form in hindi ?

CA Full Form in hindi
CA Full Form in hindi

क्या आप सब लोग यह जानना चाहते हैं कि सीए क्या होता है CA full form in hindi क्या है और 12वीं कक्षा पास करने के बाद इसे कैसे किया जाता है तो इन सब सवालों का जवाब आज हम इस पोस्ट में देने जा रहे हैं, इसलिए मेरा अनुरोध है की CA क्या है की बारीक जानकारियों को जानने के लिए इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़ें.

हर छात्र का सपना होता है कि भविष्य में वह एक अच्छी सम्मानजनक नौकरी पा सके जिससे उसका और उसके परिवार का नाम रोशन हो और वह अपने परिवार का ध्यान रख सके. पर एक अच्छी नौकरी पाने के लिए हर छात्र को शुरुआत से ही काफी मेहनत और एक बेहतर नजरिया रखने की जरूरत पड़ती है.  CA का कैरियर एक बहुत ही चुनौतीपूर्ण और सम्मानजनक कैरियर होता है शायद आपको जानकर आश्चर्य होगा कि CA को सबसे अधिक वेतन वाले कैरियर में से एक माना जाता है।

तो चलिए सबसे पहले ये जान लेते है की CA full form in hindi क्या होता है ?

CA full form in Hindi

CA full form in hindi होता है Chartered accountant (चार्टर्ड अकाउंटेंट). जैसा कि मैंने पहले ही कहा यह बहुत ही सम्मानजनक कैरियर है और एक CA को अच्छी खासी पगार भी मिलती है। Chartered accountant एक बहुत ही प्रोफेशनल कोर्स है जिसमें छात्रों को हिसाब किताब के बारे में सिखाया जाता है। अगर आप भी भविष्य में CA बनना चाहते हैं तो आपको दसवीं के बाढ़ Commerce subject लेने की सलाह दी जाती है हालांकि आर्ट्स और साइंस वाले छात्र भी CA का entrance exam क्लियर करके चार्टर्ड अकाउंटेंट कोर्स में अपना एडमिशन ले सकते हैं.

जिस प्रकार हमारे भारत में या अन्य किसी देशों में इंजीनियर, डॉक्टर, पुलिस जैसी नौकरियां एक सम्मानजनक पद मानी जाती है ठीक उसी प्रकार CA यानि Chartered accountant भी काफी सम्मानजनक कैरियर होता है इसलिए इस कोर्स को करने के लिए हर साल लाखों की तादाद में युवा इसकी तैयारी करते हैं

तो चलिए जान लेते हैं CA कैसे बने, एक CA की पगार कितनी होती है, CA बनने में कितना समय लगता है और उसकी फीस कितनी होती है।

भारत में CA की डिमांड

अगर हम सिर्फ भारत देश की बात करें तो चाहे वह सार्वजनिक क्षेत्र हो या निजी क्षेत्र दोनों ही क्षेत्रों में CA की काफी अधिक डिमांड रहती है और जैसा की आप जानते होंगे जब से हमारे देश में GST लागू हुआ है तब से Chartered accountant की मांग हद से ज्यादा बढ़ गई है किसी भी बड़ी कंपनी या निजी व्यापार को सुचारू रूप से चलाने के लिए या उसके हिसाब किताब की देखभाल करने के लिए एक योग्य CA की आवश्यकता पड़ती है। CA किसी भी कंपनी का वह कर्मचारी होता है जो उस कंपनी को दिवालियापन से रोकने तक में सक्षम होता है और कंपनी के लेनदेन को समझाने में भी उसकी अहम भूमिका होती है।

आज हम लोग को इस पोस्ट के जरिए बताने जाएंगे कि CA बनने की प्रक्रिया के साथ-साथ, सीए की नौकरी और उस की तनख्वाह कितनी होती है।

सीए क्या है ? What is CA.

जैसा कि मैंने कहा पहले ही कहा CA का फुल फॉर्म full form होता है चार्टर्ड अकाउंटेंट और यह एक बहुत ही प्रतिष्ठित डिग्री कोर्स के रूप में जाना जाता है. जो भी छात्र सीए करते हैं उन्हें बिजनेस, अकाउंट, टैक्स इन सब की पढ़ाई तो कराई जाती है साथ ही साथ उन्हें टैक्स की रिटर्न को कैसे जमा करें कंपनी के वित्तीय दस्तावेज को तैयार करना साथ ही साथ निवेश का रिकॉर्ड की देख रेख कैसे करें और किसी भी वित्तीय काम को करने के लिए उससे जुड़ी जानकारियां प्रदान की जाती है।

एक CA यानी कि चार्टर्ड अकाउंटेंट इतना योग्य और काबिल होता है कि वह किसी भी बड़ी से बड़ी कंपनी या छोटी कंपनी को बिजनेस से जुड़ी सलाह देने योग्य होता है। एक योग्य सीए को बड़ी ही आसानी से किसी भी बड़ी कंपनी या किसी व्यापारी के यहां आसानी से नौकरी मिल जाती है वह भी अच्छी तनख्वाह पर।

किसी भी छात्र को चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने के लिए 3 लेवल की ट्रेनिंग की आवश्यकता होती है जिसे इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट ऑफ इंडिया (Institute of chartered accountants of india) यानी ICAI द्वारा बनाई जाती है यह सभी तीन स्तरीय पढ़ाई पूरे करने के बाद ही छात्र एक सफल CA बन पाता है।

कैसे बने सीए, complete course details & exam of CA in Hindi

अगर आप भविष्य में सीए बनना चाहते हैं या आपका कोई सगा संबंधी सीए बनना चाहता है और वह भी स्कूल में पढ़ रहा है तो उसे सबसे पहले यह जानना जरूरी है कि दसवीं के बाद वह कौन सा सब्जेक्ट ले क्योंकि चार्टर्ड अकाउंटेंट बिजनेस और अकाउंट से जुड़ा कोर्स है इसलिए छात्रों को दसवीं के बाद कॉमर्स सब्जेक्ट लेना बेहतर होता है।

सीए बनने वाले हर छात्र को तीन तरह के एग्जाम को क्लियर करना पड़ता है तभी वह चार्टर्ड अकाउंटेंट बन पाते हैं. वह तीनों एग्जाम कौन-कौन से हैं उसके बारे में हमने नीचे जानकारी दी है।

  1. Common proficiency test (CPT).
  2. Integrated professional competence course (IPCC).
  3. Final course.

सीए बनने के लिए योग्यता, Eligibility for CA

  • जो भी छात्र भविष्य में सीए CA बनना चाहते हैं वह अगर चाहे तो दसवीं के बाद ही CPT registration का एंट्रेंस टेस्ट मैं अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं पर इस एग्जाम में बैठने के लिए और इसे क्लियर करने के लिए आपका 12वीं कक्षा पास होना अनिवार्य है.
  • साइंस, आर्ट्स या फिर कॉमर्स इन तीनों स्ट्रीम के छात्र सीपीटी एग्जाम के लिए अप्लाई कर सकते हैं.
  • जो भी छात्र कॉमर्स स्ट्रीम के होते हैं उन्हें 12वीं में कम से कम 50% अंकों के साथ 12वीं पास करना अनिवार्य है तभी वह एंट्रेंस एग्जाम के लिए योग्य हो पाते हैं.
  • तो वहीं दूसरी तरफ दूसरी स्ट्रीम यानी आर्ट्स या साइंस के छात्रों को 12वीं कक्षा को 55% मार्क और गणित के विषय में 60% मार्क लाना अनिवार्य है तभी वह सीपीटी एग्जाम के लिए योग्य होते हैं.
  • जो छात्र सीपीटी के एग्जाम को सफलतापूर्वक पास कर लेते हैं वह ICAI यानी भारतीय चार्टर्ड अकाउंटेंट इंस्टीट्यूट के सदस्य बन जाते हैं ICAI ही भारत की वह संस्थान है जो CA की परीक्षा और पाठ्यक्रम का संचालन करती है.

कैसे बने CA, how to become CA in Hindi.

एक CA ज्ञानी चार्टर्ड अकाउंटेंट का कोर्स पूरा करने में छात्रों को 5 साल का वक्त लगता है। जो भी छात्र सीए बनना चाहते हैं उन्हें अपने हाई स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद नीचे बताए गए स्टेप्स को पास करना पड़ता है तभी वे एक योग्य CA बन पाते हैं. एक बात का ध्यान रखें कि नीचे बताए गए जितने भी स्टेप्स हैं वह हर सीए बनने के लिए अति महत्वपूर्ण होते हैं।

1. ATC accounting technician course

जो भी छात्र चार्टर्ड अकाउंटेंट के कोर्स में एडमिशन लेने के लिए इच्छुक होते हैं उन्हें एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर करना होता है उसके बाद में ATC के लिए नामांकन भरते हैं।

2. IPCC

इसे अप्लाई करने के लिए छात्रों को 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद CPT टेस्ट को पास करना पड़ता है जिसमें उन्हें 200 में से कम से कम 100 नंबर लाने होते हैं.

IPCC की परीक्षा आने से 9 महीने पहले ही छात्रों को रजिस्ट्रेशन करवाना होता है.

इस कोर्स में कुल सात प्रकार के सब्जेक्ट होते हैं और प्रत्येक सब्जेक्ट यानी विषय का परीक्षा अंक 100 नंबर का होता है। हर सब्जेक्ट को पास करने के लिए छात्रों को कम से कम 40 अंक लाने होते हैं।

3. Chartered accountant internship

जो भी छात्र सफलतापूर्वक IPCC को पास कर लेते हैं उसके बाद उन छात्रों को एक योग्य CA या Certified CA बनने के लिए 3 साल के लिए internship करनी पड़ती है. इस इंटर्नशिप के दौरान छात्रों को काफी कुछ नया सीखने को मिलता है और एक नया अनुभव भी मिलता है और इस अवधि में छात्र एक योग्य चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने के हर बार इस गुण को सीखते हैं.

CA Final course

जो भी छात्र अपने 3 साल के इंटर्नशिप में होते हैं वह 3 साल के आखिरी के 6 महीनों में चार्टर्ड अकाउंटेंट का फाइनल कोर्स दे सकते हैं और जो छात्र सफलतापूर्वक इस फाइनल कोर्स को पास कर लेते हैं उन्हें चार्टर्ड अकाउंटेंट की डिग्री आसानी से मिल जाती है।

एक CA की सैलरी, salary of CA

जैसा कि हमने पहले ही कहा कि पिछले कुछ सालों में सीए की डिमांड मार्केट में काफी बढ़ गई है हर बड़ी से बड़ी या छोटी कंपनी एक योग्य सीए चाहती है और वे उन्हें मुंह मांगी पगार भी देती है।

एक सफल चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने के बाद छात्रों के पास कई विकल्प होते हैं अगर वे चाहें तो किसी भी बड़ी कंपनी या किसी फॉर्म के लिए काम कर सकते हैं और वह अगर चाहें तो अपना खुद का निजी प्रैक्टिस यानी कंसलटेंसी भी खोल सकते हैं.

एक चार्टर्ड अकाउंटेंट की कितनी सैलरी यानी पगार होती है यह सवाल हर किसी छात्र के मन में आता है जो भी चार्टर्ड अकाउंटेंट बनना चाहता है तो आज हम आपको बता दें कि चार्टर्ड अकाउंटेंट की नौकरी भारत में सबसे ज्यादा पगार पाने वाली नौकरियों में से एक मानी जाती है और विदेशों में भी एक चार्टर्ड अकाउंटेंट को काफी अच्छी खासी पैकेज मिलती है

भारत में एक योग्य सीए को किसी भी बड़ी कंपनी में सालाना 5,00,000/- से 6,00,000/- का पैकेज दिया जाता है तो वहीं दूसरी तरफ विदेशों में 40 से 45 लाख तक एक CA का सालाना पैकेज होता है।

हमारी सलाह

जो भी छात्र भविष्य में ca करना चाहते हैं उन्हें यह बात अपने मन में अच्छे से रखनी चाहिए की CA का एग्जाम और सीए को पास करना काफी मुश्किल होता है क्योंकि इसका पाठ्यक्रम कठिन होता है और काफी लंबा भी होता है इसलिए हम सभी छात्रों को यह सलाह देंगे कि सीए करने के साथ ही साथ में कोई भी ग्रेजुएशन कोर्स भी साथ में करें ताकि आगे चलकर भविष्य में उन्हें इनका लाभ मिल सके जो छात्र सीए करना चाहते हैं वह चाहे तो सीए के साथ-साथ बीकॉम की डिग्री भी साथ में कर सकते हैं ताकि उन्हें भविष्य में अगर सीए में सफलता ना मिले तो बीकॉम की डिग्री के आधार पर भी कोई सफल नौकरी पा सकें

तो यह थी दोस्तों CA full form in hindi और CA कैसे बने की पूरी जानकारी हमें पूरी उम्मीद है कि इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपकी सीए से जुड़े सारे सवालों के जवाब आपको मिल गए होंगे पर अगर अब भी आपके मन में कोई शंका है तो निसंकोच होकर हमें अपनी कमेंट बॉक्स में अपने कमेंट कर सकते हैं हम अपने हर पाठकों के कमेंट का जवाब जल्द से जल्द देंगे और अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ इसे सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले.

धन्यवाद.

यह भी पढ़े :-

MBA क्या है, कैसे करे

SSC की पूरी जानकारी

phd kya hai, phd kaise kare

क्या है CBI और CID का फुल फॉर्म ?

क्या है POK ? जानिए पूरी जानकारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: