Bhopal At The Front Of 5G Testing, Know When Will You Get The Gift Of 5G Services


5G Testing: इस साल के अंत तक भारत में 5G सर्विस (5G Services) शुरू होने की उम्मीद है. केंद्र सरकार 5G के स्पेक्ट्रम नीलामी को भी हरी झंडी दे चुकी है. टेलीकॉम अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) के मुताबिक, TRAI देश के कई हिस्सों में 5G कनेक्टिविटी की पायलट टेस्टिंग कर रहा है. इसी क्रम में भोपाल पहली स्मार्ट सिटी है, जहां 5G की टेस्टिंग की जा रही है. इस टेस्टिंग से यह पता किया जा रहा है कि टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर (TSP) द्वारा यूजर्स को 5G कनेक्टिविटी देने के लिए शहर के इंफ्रास्ट्रक्चर को कैसे यूज किया जा सकता है.

ट्राई (TRAI) के अनुसार भोपाल में उन्होंने पायलट प्रोजेक्ट के तहत TSP द्वारा 5G स्माल सेल की टेस्टिंग की है. इस टेस्टिंग के बाद भोपाल 5G की टेस्टिंग करने वाला देश का पहला स्मार्ट सिटी बन चुका है. भोपाल में ट्रैफिक सिग्नल पोल, स्ट्रीट लाइट पोल, स्मार्ट पोल, डायरेक्शन बोर्ड, होर्डिंग, फुट ओवर ब्रिज और सिटी बस शेल्टर जैसे स्ट्रीट फर्नीचर का इस्तेमाल 5G के इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए किया जा रहा है. 

TRAI ने भारत के अन्य हिस्सों में भी की टेस्टिंग

TRAI ने TSP के लिए बेंगलुरु में नम्मा मेट्रो स्टेशन पर भी 5G स्माल सेल टेस्टिंग की है. TRAI ने गुजरात के कांडला पोर्ट और GMR इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर भी  5G की टेस्टिंग की है. कांडला पोर्ट भारत का पहला पोर्ट और GMR इंटरनेशनल एयरपोर्ट भारत का पहला एयरपोर्ट है, जहां 5G की टेस्टिंग हुई  है. हालांकि TRAI ने अब तक इन टेस्टिंग के रिजल्ट के बारे में कोई जानकारी साझा नहीं की है. 

5G कब आएगा? 

अनुमान लगाया जा रहा है कि इस साल के अंत तक या फिर अगले साल की शुरुआत में 5G सेवाओं को लॉन्च कर दिया जाएगा. हालांकि, पूरे भारत में 5G पहुंचने में अप्रैल 2023 तक का समय लग जाएगा. 5G आने के बाद यूजर्स सिर्फ कुछ सेकंड्स में ही बड़ी से बड़ी फाइल को डाउनलोड कर पाएंगे. 5G की लॉन्चिंग के बाद देश में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) पर ज्यादा काम हो सकेगा. सेल्फ ड्राइव कार, स्मार्ट ऑफिस और स्मार्ट सिटी जैसे प्रोजेक्ट पर काम  हो पाएगा.

IT Sector Job: इसलिए नौकरियां कम कर रहीं अमेजन, एपल, गूगल और मेटा जैसी कंपनियां



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.