West Bengal CM Mamata Banerjee Has Announced That State Will Get 7 New Districts


West Bengal New Districts: पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी सरकार ने सात नए जिले बनाने की घोषणा की है. जिसके बाद अब राज्य में जिलों की कुल संख्या बढ़कर 30 हो जाएगी. सोमवार को पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने कहा, “पहले बंगाल में 23 जिले थे. अब इसे बढ़ाकर 30 कर दिया गया है. सात नए जिलों में शामिल हैं- सुंदरबन, इच्छामती, राणाघाट, बिष्णुपुर, जंगीपुर, बेहरामपुर और बशीरहाट.” 

इस पर प्रतिक्रिया देते हुए बीजेपी के अमित मालवीय ने कहा, “ममता बनर्जी का सात नए जिले बनाने और नए चेहरों को शामिल करने का निर्णय एसएससी घोटाले से ध्यान हटाने का एक प्रयास है. उन्हें बताना होगा कि कर्ज में फंसी पश्चिम बंगाल सरकार को नए जिले चलाने के लिए पैसा कहां से मिलेगा. परेश अधिकारी अभी भी मंत्रिमंडल में हैं, नए चेहरे भी दाग नहीं धो पाएंगे.” 

मंत्रिमंडल में भी होगा फेरबदल

परेश अधिकारी राज्य के शिक्षा मंत्री हैं. एसएससी भर्ती घोटाले में पार्थ चटर्जी के साथ ईडी ने भी उनके घर पर छापा मारा था. मुख्यमंत्री बनर्जी ने पहले घोषणा की थी कि बुधवार को राज्य में मंत्रिमंडल में फेरबदल होगा. उन्होंने कहा था कि, “हम बुधवार को फेरबदल करेंगे. 4-5 नए चेहरे होंगे.” ये एलान एसएससी भर्ती घोटाला मामले में पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा गिरफ्तार किए जाने के तुरंत बाद किया गया. 

चटर्जी उद्योग, वाणिज्य और उद्यम, आईटी और इलेक्ट्रॉनिक्स, संसदीय मामलों व सार्वजनिक उद्यमों और औद्योगिक पुनर्निर्माण विभागों के प्रभारी मंत्री थे. चटर्जी की गिरफ्तारी के बाद गुरुवार को सीएम ने उनके विभागों की कमान संभाली. पार्थ चटर्जी को मंत्री पद से भी हटा दिया गया है. सीएम बनर्जी के पास अब पार्थ चटर्जी के चार विभागों सहित 11 विभागों का प्रभार है. 

क्या कहा सीएम ममता बनर्जी ने?

पश्चिम बंगाल के सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने कहा, “हमारे पास पूरे मंत्रालय को भंग करने और एक नया बनाने की कोई योजना नहीं है. हां, एक फेरबदल होगा. हमने मंत्री सुब्रत मुखर्जी, साधन पांडे को खो दिया. पार्थ चटर्जी (Partha Chatterjee) जेल में हैं इसलिए उनका सारा काम करना है. मेरे लिए ये सब अकेले संभालना संभव नहीं है.” 

ये भी पढ़ें- 

Bengal SSC Scam: कुछ करने से लेकर खाने-पीने तक…पार्थ और अर्पिता पर लगातार CCTV कैमरों से ED की निगरानी, पूछताछ की भी रिकॉर्डिंग

Monsoon Session: ‘पेंसिल-शार्पनर जैसी चीजों पर भी बढ़ा GST, बच्चों को भी नहीं बख्श रही सरकार’ लोकसभा में बोले मनीष तिवारी



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.