Udaipur Murder Pakistan Rejects Reports Of Links To Karachi-based Ismalist Organisation | DNP…Udaipur Murder: ‘उदयपुर मर्डर केस से पाकिस्तान का कोई लेना-देना, बदनाम करने की है साजिश’


 Pakistan On Udaipur Murder: उदयपुर मर्डर केस में पाकिस्तान ( Pakistan) के इस्लामिक संगठनों (Ismalist Organisation) के तार जुड़े होने की बात को पाकिस्तान विदेश मंत्रालय (Pakistan’s Foreign Ministry ) ने नकार दिया है. बुधवार 29 जून को इस मामले में मंत्रालय के ऑफिस की तरफ से एक बयान जारी किया है. इसमें उसने उदयपुर के टेलर कन्हैया लाल साहू ( Kanhaiya Lal Sahu) की हत्या में पाकिस्तान के संगठनों से संबंध जोड़ने पर नाराजगी जाहिर की है. मंत्रालय ने कहा है कि भारत अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान की छवि धूमिल करना चाहता है, इसलिए ऐसा कर रहा है. 

क्या कहा पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने

पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के कार्यालय से जारी एक बयान में कहा गया है कि उसने भारतीय मीडिया के एक हिस्से में उदयपुर में हत्या के मामले की जांच का जिक्र करते हुए रिपोर्ट देखी है, जिसमें आरोपी व्यक्तियों को पाकिस्तान में एक संगठन से जोड़ा जा रहा है. पाकिस्तान के विदेश कार्यालय(FO) ने बुधवार को उदयपुर में एक दर्जी की निर्मम हत्या के आरोपी को कथित तौर पर कराची स्थित इस्मालिस्ट संगठन (Karachi-Based Ismalist Organisation) से जोड़ने की भारत की बात को खारिज कर दिया.

पाकिस्तान  एफओ ने कहा, “भारत दुनिया को कर रहा गुमराह”

पाकिस्तान के एफओ (FO) ने कहा, ”हम इस तरह के किसी भी तरह के आरोपों को साफ तौर पर खारिज करते हैं.”एफओ ने यह भी कहा कि इस तरह के ‘दुर्भावनापूर्ण प्रयास’ भारत या दुनिया में कहीं और लोगों को गुमराह करने में कामयाब नहीं होंगे. उसने आगे कहा, ‘हम इस तरह के किसी भी आरोप को साफ तौर से खारिज करते हैं,’ यह कहते हुए कि ये नई दिल्ली के पाकिस्तान को बदनाम करने की एक कोशिश है, जिसमें वह पाकिस्तान की तरफ उंगली उठाकर अपने आंतरिक मुद्दों से बाहरी दुनिया का ध्यान हटाना चाहता है. 

राजस्थान पुलिस का दावा आरोपी के पाकिस्तान से जुड़े हैं तार

गौरतलब है कि राजस्थान के पुलिस महानिदेशक (DGP) एमएल लाठर (M.L. Lather) ने बुधवार को संवाददाताओं को बताया था कि कन्हैया लाल साहू की हत्या के दोनों आरोपियों में से एक का कराची के इस्मालिस्ट संगठन दावत-ए-इस्लामी (Dawat e islami) से संबंध है. उन्होंने ये भी जानकारी दी की वह 2014 में कराची गया था. उदयपुर में दो आरापियों रियाज अख्तरी (Riaz Akhtari) और गौस मोहम्मद (Ghouse Mohammad) ने 28 जून मंगलवार को टेलर कन्हैया लाल की उसकी दुकान पर कथित तौर पर चाकू से हत्या कर दी. आरोपियों ने इसका ऑनलाइन वीडियो पोस्ट करते हुए कहा था कि वे इस्लाम के अपमान का बदला ले रहे हैं.

ये भी पढ़ें:

Udaipur Murder Case: कराची रिटर्न है हत्या का आरोपी गौस मोहम्मद, DGP का खुलासा

Udaipur Murder Case: कन्हैया के कातिल गौस मोहम्मद ने पाकिस्तान में ली थी ट्रेनिंग, राजस्थान के गृह राज्यमंत्री का खुलासा



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.