Smriti Irani Row Congress Allegations On Daughter Of Smriti Irani Union Minister Also Replied Back Know All Details


Smriti Irani Row: कांग्रेस और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) के बीच शनिवार को जमकर वार पलटवार हुआ. कांग्रेस (Congress) ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की बेटी पर गोवा (Goa) में अवैध बार (Illegal Bar) चलाने का आरोप लगाया है. साथ ही कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) को अपने मंत्रिमंडल से स्मृति ईरानी को बर्खास्त करना चाहिए. इन आरोपों को लेकर स्मृति ईरानी ने भी कांग्रेस पर जमकर पलटवार किया. जानिए मामले की बड़ी बातें.

  • कांग्रेस के मीडिया एवं प्रचार प्रमुख पवन खेड़ा (Pawan Khera) ने शनिवार को पीसी कर कहा, “केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के परिवार पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगे हैं. गोवा में उनकी बेटी द्वारा चलाए जा रहे रेस्त्रां पर शराब परोसने के लिए फर्जी लाइसेंस जारी करवाने का आरोप लगा है और यह कोई सूत्रों के हवाले से या एजेंसियों द्वारा राजनीतिक प्रतिशोध लेने के लिए लगाया गया आरोप नहीं है, बल्कि सूचना का अधिकार (आरटीआई) के तहत प्राप्त जानकारी में खुलासा हुआ है.”
  • उन्होंने दावा किया, “केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की बेटी ने अपने ‘सिली सोल्स कैफे एंड बार’ के लिए फर्जी दस्तावेज देकर बार लाइसेंस जारी करवाए.” कांग्रेस नेता के अनुसार 22 जून 2022 को लाइसेंस के नवीनीकरण के लिए जिस ‘एंथनी डीगामा’ के नाम से आवेदन किया गया, उनकी पिछले साल मई में ही मौत हो चुकी है. एंथनी के आधार कार्ड से पता चला है कि वे मुंबई के विले पार्ले के निवासी थे. आरटीआई के तहत सूचना मांगने वाले वकील को इनका मृत्यु प्रमाण-पत्र भी मिला है. 
  • कांग्रेस नेता ने कहा, “हम प्रधानमंत्री से मांग करते हैं कि तत्काल प्रभाव से स्मृति ईरानी को मंत्रिमंडल से बर्खास्त किया जाए.” पवन खेड़ा ने यह सवाल भी किया, “स्मृति ईरानी को बताना चाहिए ये धांधली किसके इशारे पर हो रही है? अवैध कार्यों को अंजाम देने के पीछे कौन है? जो स्मृति ईरानी कल तक राहुल गांधी और सोनिया गांधी को लेकर तरह-तरह के सवाल पूछ रही थीं, वो आज अपने पारिवारिक भ्रष्टाचार पर चुप क्यों है?”
  • स्मृति ईरानी ने कांग्रेस के आरोपों को खारिज करते हुए कहा, “मेरी बेटी की गलती ये है कि उसकी मां सोनिया और राहुल गांधी की 5,000 करोड़ रुपये की लूट पर संवाददाता सम्मेलन करती है. उसकी गलती ये है कि उसकी मां ने 2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ा.”
  • केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कांग्रेस ने उनकी बेटी का चरित्र हनन किया और उसे निशाना बनाया. उन्होंने विपक्षी दल कांग्रेस को उनकी बेटी द्वारा कोई गड़बड़ी किए जाने का सबूत दिखाने की चुनौती दी. महिला और बाल विकास मंत्री ईरानी ने पूछा कि क्या कांग्रेस नेता जयराम रमेश और पवन खेड़ा द्वारा संवाददाता सम्मेलन में दिखाए गए कथित नोटिस में उनकी बेटी का नाम है.
  • ईरानी ने कहा कि उनकी 18 वर्षीय बेटी कॉलेज की प्रथम वर्ष की छात्रा है और कोई बार नहीं चलाती. उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने गांधी परिवार के इशारे पर उनकी बेटी को निशाना बनाने के लिए संवाददाता सम्मेलन किया. 
  • स्मृति ईरानी की पुत्री की ओर से भी इन आरोपों को खारिज किया गया है. केंद्रीय मंत्री की पुत्री के वकील कीरत नागरा ने एक बयान में कहा कि उनकी मुवक्किल ‘सिली सोल्स’ नामक रेस्त्रां की न तो मालकिन है और न ही इसका संचालन करती हैं. किसी प्राधिकार की तरफ से उन्हें कोई कारण बताओ नोटिस भी नहीं मिला है. नागरा ने आरोपों को निराधार करार देते हुए कहा, “यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि वे लोग सिर्फ इसलिए दुष्प्रचार कर रहे हैं, ताकि तथ्यों की जांच-परख किये बिना मुद्दाविहीन बात को सनसनी बनाकर पेश किया जा सके और वे मेरी मुवक्किल को सिर्फ इसलिए बदनाम करने पर आमादा हैं कि वह एक नेता की पुत्री हैं.”
  • कांग्रेस ने इसके बाद एक कागजात जारी करते हुए दावा किया कि आबकारी विभाग की ओर से स्मृति ईरानी की पुत्री को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था और जिस अधिकारी ने नोटिस दिया था, उसका कथित तौर पर तबादला किया जा रहा है. कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश (Jairam Ramesh) ने कहा, “हम इस मुद्दे को संसद में उठाएंगे.”
  • कांग्रेस नेता ने कहा, “प्रधानमंत्री तत्काल स्मृति ईरानी को हटाएं. यह सिर्फ आरोप नहीं है. इसके सारे कागजात सामने हैं. यह सब हुआ है, क्योंकि एक प्रभावशाली मंत्री इसके पीछे हैं. 2004 में स्मृति ईरानी ने गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री का इस्तीफा मांगा था. आज प्रधानमंत्री उनका इस्तीफा लें.”
  • उन्होंने आरोप लगाया कि रेस्तरां तक मीडिया की पहुंच न होने देने के लिए गोवा में इसके चारों ओर निजी सुरक्षाकर्मी तैनात किये गये हैं. उन्होंने पूछा, “हम आपसे जानना चाहते हैं कि यह सब किसके प्रभाव से किया जा रहा है? इस गैर-कानूनी कार्य के पीछे कौन है?” खेड़ा ने बाद में एक खबर साझा करते हुए ट्वीट किया, “कौन स्मृति ईरानी (Smriti Irani) झूठ बोल रही हैं? वह, जिन्होंने 14 अप्रैल, 2022 को कहा था कि उन्हें बेटी के रेस्त्रां पर गर्व है या फिर वह जिन्होंने आज कहा कि उनकी बेटी का सिली सोल्स बार एंड कैफे से कोई लेना-देना नहीं है?” 

ये भी पढ़ें- 

Exclusive: ‘पीएम मोदी ने आर्थिक फैसलों में चूक की’, abp न्यूज से बोले दिग्विजय सिंह- बाद में सोचते हैं प्रधानमंत्री

Maharashtra Politics: देवेद्र फडणवीस ने उद्धव ठाकरे पर कसा तंज- ‘महाराष्ट्र में अघोषित आपातकाल था, इसे फिर नंबर वन बनाएंगे’



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.