Samajwadi Padyatra Stars From August 9 Akhilesh Yadav Will Hits Out On Yogi Govt Ann


Desh Bachao Desh Banao Samajwadi Padyatra: उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath)से राजनीति में मात खा रहे समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) अब पदयात्रा के जरिए उनका मुकाबला करेंगे. 9 अगस्त को अगस्त क्रांति दिवस के मौके पर पार्टी गाजीपुर से ‘देश बचाओ देश बनाओ समाजवादी पदयात्रा’ निकालेगी. इस यात्रा के जरिए समाजवादी पार्टी को यूपी में बीजेपी का मुकाबला कर सकने वाली पार्टी साबित करने का संदेश अखिलेश यादव देंगे. इसके साथ ही वह सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के ओमप्रकाश राजभर को भी यह बतायेंगे कि अखिलेश यादव एसी कमरे में बैठकर राजनीति नहीं करता, बल्कि समाजवादी पार्टी के नेता ही सड़क पर उतरकर बीजेपी की नीतियों  की खामियों को उजागर करते हैं. 

हाल ही में समाजवादी पार्टी से नाता तोड़ने वाले ओमप्रकाश राजभर (OP Rajbhar) ने अखिलेश यादव पर आरोप लगाया था कि वह एसी कमरे में रहकर राजनीति करते हैं. राजभर के इस आरोप का जवाब समाजवादी पार्टी की पदयात्रा से मिल जाएगा, क्योंकि इस पदयात्रा को अखिलेश ओमप्रकाश राजभर के प्रभाव वाले जिले से ही निकाल रहे हैं. इस यात्रा के जरिए समाजवादी पार्टी सड़क पर अभियान चलाती नज़र आएगी. नौ अगस्त को अगस्त क्रांति दिवस के मौके पर गाजीपुर से यह पदयात्रा होगी. समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम के अनुसार, ‘देश बचाओ देश बनाओ समाजवादी पदयात्रा’ का पहला चरण गाजीपुर, बलिया, मऊ, जौनपुर, भदोही होते हुए 27 अक्टूबर को वाराणसी में खत्म होगा. इस पद यात्रा की अगुवाई गाजीपुर जिला अध्यक्ष अभिषेक यादव करेंगे.  यात्रा नौ अगस्त को गाजीपुर पार्टी  जिला कार्यालय से शुरू होगी. और 27 अगस्त को बलिया, 8 सितंबर को मऊ, 15 सितंबर को आजमगढ़, 3 अक्टूबर को जौनपुर, 14 अक्टूबर को भदोही, 19 अक्टूबर को वाराणसी पहुंचेगी. 27 अक्टूबर को पदयात्रा के पहले चरण का समापन होगा. बीते विधानसभा चुनावों में समाजवादी पार्टी ने इन जिलों में बीजेपी के विजय रथ को रोका था.

यह भी पढ़ें- Maharashtra Politics: महाराष्ट्र में राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के कमेंट पर घमासान, CM एकनाथ शिंदे बोले- ये उनका निजी बयान

ऐसी होगी पदयात्रा की तस्वीर

सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल के अनुसार पार्टी की पदयात्रा जिन जिलों से गुजरेगी उनके समाजवादी पार्टी कार्यालयों, सभी विधानसभा क्षेत्रों, तहसीलों और ब्‍लॉकों में पहुंचेगी. यात्रा में समाजवादी पार्टी सदस्यता अभियान, तिरंगा झंडा अभियान, नुक्कड़ सभा, जुलूस, संगोष्‍ठी वृक्षारोपण और पर्यावरण के प्रति जनजागरूकता के कार्यक्रम होंगे. इसके साथ ही योगी सरकार की जनविरोधी नीतियों का खुलासा किया जाएगा. पूर्वांचल और बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे की खामियों को भी पदयात्रा के जरिए सपा नेता उजागर करेंगे. इस पदयात्रा के जरिए जनजागरूकता और पर्यावरण संरक्षण जैसे मुद्दे को उठाते हुए यूपी में पार्टी की जमीन को एक बार फिर मजबूत करेंगी. जनता को बताएगी कि बसपा और सुभासपा जनता की हितैषी नहीं भाजपा से सांठगांठ कर उनके वोटों का सौदा करने वाली पार्टी हैं. इनके बहकावे में ना आएं. पार्टी नेताओं के अनुसार, इस यात्रा के जरिए अखिलेश यादव पार्टी कार्यकर्ताओं को सड़क पर उतारकर सपा को यूपी के राजनीतिक प्‍लेटफार्म पर सक्रिय करना चाहते हैं.

यह भी पढ़ें- Commonwealth Games 2022: सिल्वर मेडल जीतने के बावजूद खुश नहीं हैं Sanket Sargar, खुद बताया कारण



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.