Railway News Indian Railway TTE With Hand Held Terminal Know On Which Route Service Started What The Benefits


Indian Railways Hand Held Terminal: भारतीय रेलवे ने यात्रियों की सुविधा का ख्याल रखते हुए बहुत ही अच्छी पहल की है. रेलवे ने यात्रियों की बेहतर सुविधा के मद्देनजर टीटीई को हैंड हेल्ड टर्मिनल (Hand Held Terminal) मशीनों से लैस किया है. ऐसे में पैसेंजर ट्रेनों में अब टीटीई की मनमानी नहीं चल पाएगी. यात्रियों को ट्रेन में सफर के लिए बर्थ को लेकर अब टीटीई (TTE) के सामने गिड़गिड़ाने की भी जरूरत नहीं पड़ेगी. मेल और एक्सप्रेस गाड़ियों में चलने वाले टीटीई अब हैंड हेल्ड मशीन अपने पास रखेंगे, इससे खाली सीटों का ब्योरा आसानी से देखा जा सकेगा. फरीदाबाद रूट पर दो ट्रेनों में इस सुविधा की शुरूआत हो गई है. उत्तर मध्य रेलवे के कई चेकिंग स्टाफ को ये मशीनें दी गई हैं.

एचएचटी मशीन यानी कि हैंड टर्मिनल मशीन एक तरह से डिजिटल डिवाइस है. इस मशीन के मिलने से एक-एक सीट का ब्योरा ऑनलाइन रहेगा.

भारतीय रेलवे की पहल

भारतीय रेलवे ने यात्रियों को हैंड हेल्ड टर्मिनल (HHT) के जरिए सीट खाली होने पर गाड़ी में ही आरक्षण की सुविधा दी है. इतना ही नहीं अब सीटें खाली होने पर टीटीई मनमानी नहीं कर सकेंगे क्योंकि ब्योरा ऑनलाइन रहेगा. इसमें आरक्षण कराने वाले सभी यात्रियों का डेटा उपलब्ध रहेगा. रेलवे कर्मचारी यानी टीटीई अब पेपरलेस होंगे. फरीदाबाद रूट की दो ट्रेनों में टीटीई को ये मशीनें दी गई हैं. आने वाले कुछ वक्त में सभी मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में ये मशीन उपलब्ध कराई जाएगी ताकि यात्रियों को कोई असुविधा न हो.

खाली सीट को लेकर आसानी से मिलेगी जानकारी

ट्रेन में कई बार ऐसा होता है कि किसी मजबूरी में यात्री सफर नहीं कर पाते हैं. अब ऐसी स्थिति होने पर खाली सीट को लेकर आसानी से जानकारी मिल सकेगी. कोई भी यात्री अब उस खाली सीट के लिए आरक्षण करवा सकेगा. इसमें टीटीई से रिक्वेस्ट करने की जरूरत नहीं होगी. उत्तर रेलवे के चीफ पीआरओ दीपक कुमार के मुताबिक नई दिल्ली से चलकर आगरा कैंट और आगरा कैंट से चलकर नई दिल्ली 14211/12 में ये सुविधा शुरू हुई है. इसके अलावा नई दिल्ली से एमपी यानी मध्य प्रदेश के वीरांगना लक्ष्मीबाई तक जाने वाली ट्रेन संख्या 12279 और 12280 ताज एक्सप्रेस ट्रेन में भी ये सुविधा शुरू कर दी गई है.

हैंड हेल्ड मशीन के क्या हैं फायदे?

भारतीय रेलवे (Indian Railways) में यात्री किराए (Train Fare) को लेकर भी ये मशीन काफी सहायक साबित होगी. इसके साथ ही वेटिंग लिस्ट (Waiting List) वाले यात्री या फिर कैंसिल मोड वाले यात्रियों के बारे में भी एचएचटी (HHT) डिजिटल डिवाइस के जरिए जानकारी मिलेगी. अगर पीएनआर (PNR) किसी तरह से भूल गए हो तो यात्री के नाम से भी सफर को लेकर यात्रियों की डिटेल्स उपलब्ध होगी. ये मशीन ट्रेन यात्री आरक्षण सिस्टम के मेन सर्वर से जुड़ी रहती है. टीटीई की मनमानी और सीटों को बेच देने की घटना पर इस मशीन के जरिए लगाम लगाई जा सकती है.

ये भी पढ़ें:

Railway Update: आज रेलवे ने कुल 159 ट्रेनों को किया रद्द, 14 रिशेडयूल! जानिए इसका कारण

साइकिल से दिल्ली के लिए रवाना Maharashtra Police के 9 जवान, 12 दिन में यात्रा पूरी कर मनाएंगे आज़ादी के अमृत महोत्सव



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.