Petrol Prices Increased 78 Times In A Year The Center Responded To The Question Of AAP MP Raghav Chadha


Raghav Chaddha Attack on Center: आम आदमी पार्टी (AAP) ने देश में पेट्रोल-डीजल (Petrole-Diesel) के बढ़ते दामों को लेकर केंद्र सरकार (Center) पर हमला बोला है. आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा (Raghav Chaddha) ने बीजेपी (BJP) पर हमला बोलते हुए कहा, ‘मेरे सवाल के जवाब में केंद्र सरकार (Central Government) ने जवाब देते हुए बताया है कि वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान केंद्र सरकार ने पेट्रोल के दामों में 78 बार और डीजल के दामों में 76 बार बढ़ोत्तरी की है. यह हर दूसरी वस्तु की कीमतों पर असर डालता है.’ 

राघव चड्ढा ने बताया कि केंद्र सरकार विपक्ष की आवाज को दबाने की कोशिश कर रही है. राघव चड्ढा ने मौजूदा सरकार को अटल जी की सरकार से सबक लेने की बात कहते हुए केंद्र सरकार को नसीहत दे डाली. राघव चड्ढा ने कहा, ‘जब अटल बिहारी वाजपेयी एनडीए के प्रधानमंत्री थे तब सत्तारूढ़ सरकार के साथ विपक्ष का भी समान सम्मान किया जाता था. वर्तमान बीजेपी सरकार को प्रधानमंत्री वाजपेयी की बीजेपी सरकार वाली किताब से एक पन्ना निकालना चाहिए.’

पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री ने दिया जवाब
राघव चड्ढा के सवालों का जवाब देते हुए पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री रामेश्वर तेली ने जवाब देते हुए बताया,  ‘पेट्रोल के दामों को 26-6-2010 और 19-10-2014 से बाजार निर्धारित किया गया है.’ उसके बाद से ही पब्लिक सेक्टर वाली ऑयल मार्केटिंग कंपनियां ही पेट्रोल और डीजल के दामों पर सही निर्णय लेती हैं. 16 जून 2017 से ऑयल मार्केटिंग कंपनियों ने ही पेट्रोल और डीजल के खुदरा बिक्री मूल्य में रोजाना होने वाले संशोधन को लागू किया है.

उत्पाद शुल्क से केंद्र कमाए 16 लाख करोड़ रुपये
आप के राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा (Raghav Chaddha) यहीं पर नहीं रुके उन्होंने केंद्र (Center) पर हमला जारी रखते हुए आगे बाताया कि केंद्र सरकार ने साल 2016 से लेकर साल 2022 के बीच ईंधन (Fule) पर लगाए गए उत्पाद शुल्क के माध्यम से 16 लाख करोड़ रुपये कमाए हैं. लेकिन केंद्र सरकार मुद्रास्फीति को संबोधित नहीं करना चाहती है. आप सांसद ने कहा एक साल में जितना पेट्रोल और डीजल की कीमतों के दाम बढ़े हैं उसको लेकर आम आदमी के खरीदने वाली हर दूसरी वस्तु के दाम में फर्क पड़ता है. 

ये भी पढ़ें:

Vice President Election 2022: धनखड़ उपराष्ट्रपति पद का चुनाव जीते तो रच देंगे इतिहास, जानिए राजस्थान से और कौन रहा है वाइस प्रेसिडेंट

Vice President Election 2022: पश्चिम बंगाल के राज्यपाल को NDA ने बनाया अपना उम्मीदवार, जानिए अब तक कितने राज्यपाल बने उप राष्ट्रपति



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.