Nagpur Boy Gets Job In America After Winning Coding Contest Loses Offer Due To Age


Nagpur Boy Wins Coding Contest: देश में प्रतिभाओं की कमी नहीं है. कभी-कभी ऐसे पल आते हैं, जब कोई अपनी प्रतिभा के बल पर बड़ी उपलब्धि हासिल तो कर लेता है, लेकिन उसके रास्ते में कम उम्र रोड़ा बन जाती है. नागपुर (Nagpur) में एक छात्र के साथ कुछ ऐसा ही हुआ. नागपुर में एक 15 साल के छात्र ने कोडिंग कंटेस्ट (Coding Contest) जीती और उसे अमेरिका की एक कंपनी (US Based Company) में जॉब के लिए बड़ा ऑफर भी मिला, लेकिन इसकी राह में उम्र रोड़ा बन गई. छात्र सिर्फ इस वजह से नौकरी नहीं कर पाया क्योंकि उसकी उम्र अभी महज 15 साल की थी.

नागपुर के 15 साल के लड़के को एक ड्रीम जॉब मिली, लेकिन कंपनी को उसकी उम्र के बारे में पता चलने के बाद नौकरी की पेशकश जल्द ही वापस ले ली गई. वेदांत देवकते (Vedant Deoakte) नाम का छात्र अपनी मां के पुराने लैपटॉप पर इंस्टाग्राम पर स्क्रॉल करते हुए एक वेब डेवलपमेंट प्रतियोगिता के बारे में जाना था और फिर उसमें हिस्सा लिया था.

अमेरिकी कंपनी में मिली थी सपनों की नौकरी

जानकारी के मुताबिक 15 साल के वेदांत देवकते अपनी मां के पुराने और कम स्पीड वाले लैपटॉप पर इंस्टाग्राम ब्राउज कर रहे थे, तभी उन्हें एक वेबसाइट डेवलपमेंट प्रतियोगिता का लिंक मिला. प्रतियोगिता में हिस्सा लेते हुए उसने दो दिनों में कोड की 2,066 लाइन लिखीं, और जब परिणाम घोषित किए गए तो उसे एक अमेरिकी कंपनी में उसके सपनों की नौकरी मिल गई.

कम उम्र बनी नौकरी में बाधा

वेदांत को अमेरिकी कंपनी में सैलरी पैकेज के तौर पर करीब 33 लाख रुपये सालाना तय किया गया था. अपनी सैलरी और अचानक जॉब को लेकर प्लेटफॉर्म मिलने से वेदांत काफी खुश थे, लेकिन उनके सपनों के बीच उसकी उम्र आड़े आ गई. महज 15 साल का होने के चलते वेदांत को ये नौकरी नहीं मिल सकी. 

अमेरिकी कंपनी ने क्या कहा?

इस बीच टीओआई की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिकी कंपनी (US Company) ने वेदांत देवकते (Vedant Deoakte) को डिमोटिवेट न होने और अपनी पढ़ाई पूरी करने के लिए कहा है. टीम ने कहा है कि हम आपके अनुभव, प्रोफेशनलिज्म और दृष्टिकोण से प्रभावित. कंपनी ने ये भी सुझाव दिया है कि अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद उनसे संपर्क करे. उधर, वेदांत के माता-पिता अपने बेटे की इस प्रतिभा से दंग हैं.

ये भी पढ़ें:

Medicine Price: इन गंभीर बीमारियों की दवाओं की कीमत कम करने की तैयारी में सरकार, जानें कब लिया जा सकता है फैसला

RSS On Inflation: आरएसएस का बड़ा बयान- लोगों को सस्ते दामों पर चाहिए रोटी, कपड़ा और मकान



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.