​NAAC Bihar Government Instruct All Universities And Colleges Will Apply For NAAC


Bihar Government on NAAC: बिहार (Bihar) की सरकार द्वारा विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों (Universities and Colleges) को नैक (NAAC) के लिए रजिस्ट्रेशन कराने के लिए निर्देश दे दिया गया है. निर्देश देते हुए कहा गया है कि ऐसे विश्वविद्यालय और कॉलेज जिन्होंने अभी तक नैक के लिए पंजीयन नहीं कराया है, वह इसकी तैयारी शुरू कर दें. सरकार ने कहा है कि सभी को यूजीसी से एक्रीडिएशन लेना आवश्यक है.

 

इस दिन होगी बैठक
बिहार राज्य उच्चतर शिक्षा परिषद के अधिकारी हर तरह की जानकारी प्रदान करेंगे. बिहार सरकार की उच्च शिक्षा की निदेशक रेखा कुमारी ने पटना विश्वविद्यालय, पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय और संबंधित कॉलेजों के लिए छह अगस्त को नैक की बैठक बुलाई है. इस बैठक का आयोजन जगजीवन राम संसदीय अध्ययन एवं राजनीतिक शोध संस्थान में किया जाएगा. जानकारी के अनुसार इस बैठक में राज्य के शिक्षा मंत्री विजय चौधरी, अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार भी मौजूद रहेंगे.

 

क्या है नैक
राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद (National Assessment and Accreditation Council) एक संस्थान है जो देश के उच्च शिक्षा और अन्य शिक्षा संस्थानों का आकलन तथा मान्यता का काम करती है. इसकी स्थापना साल 1994 में की गई थी. नैक मूल्यांकन (NAAC Rating) के तहत सीजीपीए (Cumulative Grade Point Average) ग्रेडिंग सिस्टम को अपनाया जाता है. इसमें न्यूनतम ग्रेड 1.5 और अधिकतम ग्रेड 4 है. मूल्यांकन के समय नैक यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में प्रदान की गयी सुविधाओं के अनुसार उन्हें ग्रेड प्रदान करता है. इसी ग्रेड के अनुसार ही उन्हें मान्यता प्रदान की जाती है. जिस संस्थान को नैक मूल्यांकन में A++ मिलता है, उस संस्थान में शिक्षा प्रदान करने का स्तर बहुत ही अच्छा होता है.

 

 

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.