Karnataka BJP Youth Leader Praveen Nettaru Murder Case Two Persons Arrested


Praveen Nettaru Murder: कर्नाटक (Karnataka) में बीजेपी कार्यकर्ता (BJP Worker) प्रवीण नेट्टारू (Praveen Nettaru) की सरेआम हत्या के बाद राज्य में बवाल बढ़ता ही जा रहा है. इस मामले पर मुख्यमंत्री (Chief Minister) से लेकर गृहमंत्री (Home Minister) तक के बयान सामने आ रहे हैं. कर्नाटक के गृहमंत्री अरगा जनेंद्र ने कहा कि इस मामले की जांच चल रही है और कई लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. उन्होंने कहा कि हमारा संदेह पीएफआई (PFI) और एसडीपीआई (SDPI) पर है. अभी किसी पर टिप्पणी नहीं की जा सकती है. इसलिए अभी ये नहीं कहा जा सकता कि हां इस व्यक्ति हत्या की है. पुलिस जल्द ही हत्यारे को पकड़ लेगी, वो चाहे जो भी हो.

तो वहीं मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने सरकार के एक साल पूरे होने पर होने वाले कार्यक्रम को ही रद्द कर दिया है. उन्होंने कहा कि मैंने प्रवीण नेट्टारू के परिवार के कष्ट को देखते हुए ये फैसला लिया है. मेरी अंतर्रात्मा ने मुझे शोकग्रस्त मां और पत्नी को देखकर ये उत्सव मनाने की अनुमित नहीं दी. इसके साथ ही उन्होंने ये भी साफ किया कि ये निर्णय किसी के दवाब में आकर नहीं लिया गया है.

बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या पर आक्रोश

प्रवीण नोट्टारू की हत्या के मामले को लेकर दक्षिण कन्नड़ जिले में हिंदुवादी संगठनों में जबदरदस्त आक्रोश है. इनके गुस्से का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि बुधवार को प्रदर्शन कर रहे हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ता बीजेपी नेताओं पर ही भड़क गए. इतना ही नहीं  प्रवीण के परिजनों से मिलने पहुंचे स्थानीय सांसद और बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष नलिन कुमार कतील की कार को प्रदर्शनकारियों ने घेर लिया था. लोगों ने गाड़ियों के पहियों से हवा निकालने और उसे पलटने की भी कोशिश की.

पीएफआई और एसडीपीआई पर लग रहा आरोप

प्रवीण नेट्टारू (Praveen Nettaru) की हत्या का आरोप पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) और सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (SDPI) पर लग रहा है. वहां मौजूद कार्यकर्ताओं ने इन दोनों संगठनों पर ये आरोप लगाया है. गौरतलब है कि मंगलवार 26 जुलाई की रात को बीजेपी युवा (Youth BJP) मोर्चा के नेता प्रणीण नेट्टारू की उसकी ही दुकान पर हत्या कर दी थी. ये हत्या मोटरसाइकिल पर सवार होकर आए अज्ञात हमलावरों ने की थी.

ये भी पढ़ें: Karnataka: प्रवीण नेट्टारू की हत्या मामले में पुलिस ने 21 लोगों को लिया हिरासत में, PFI से जुड़े होने की आशंका

ये भी पढ़ें: Karnataka: बीजेपी नेता की हत्या से बवाल, CM बोम्मई ने रद्द किया सरकार के एक साल पूरे होने का जश्न, बोले- बख्शे नहीं जाएंगे अपराधी





Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.