Jaishankar Remembers Former EAM Sushma Swaraj On Her Death Anniversary


Sushma Swaraj Death Anniversary: भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) ने पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) की तीसरी पुण्यतिथि (Death Anniversary) पर उनको याद किया. बता दें कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सबसे प्रमुख महिला चेहरों में से एक रहीं सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) का 67 साल की आयु में हार्ट अटैक से निधन हो गया. पूर्व विदेश मंत्री को याद करते हुए एस जयशंकर (S Jaishankar) ने ट्वीट किया. जयशंकर (S Jaishankar) ने एक ट्वीट में लिखा, ‘सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) जी को उनके निधन की बरसी पर प्यार से याद करें. हमारे ख्यालों में कई बार इतने तरीकों से.

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने भी सुषमा स्वराज को श्रद्धांजलि दी. एक ट्वीट में अनुराग ठाकुर ने लिखा- सुषमा स्वराज ने एक वक्ता, नेता और कार्यकर्ता के रूप में भारत के राजनीतिक में नम्रता, सहजता और कड़ी मेहनत की एक अमिट छाप छोड़ी.

एमपी से सीएम शिवराज ने श्रद्धांजलि दी 
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने ट्विटर पर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा, सुषमा स्वराज ने अपनी सेवा और कार्यों से राज्य और देश के साथ-साथ दुनिया के लोगों का दिल जीता था. वह आज भी अपने कार्यों और विचारों से लोगों की स्मृति में जीवित हैं और हमेशा रहेंगी.

जानिए सुषमा स्वराज का राजनीतिक सफर
14 फरवरी, 1952 को जन्मीं सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) ने कम उम्र में सार्वजनिक जीवन में प्रवेश किया. साल 1977 में 25 साल की उम्र में हरियाणा विधानसभा का चुनाव जीता और श्रम और रोजगार मंत्री बनीं. वह (Sushma Swaraj) साल 1987 से 1990 तक हरियाणा की शिक्षा, खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री थीं. सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) ने अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) के नेतृत्व वाली सभी सरकारों में मंत्री के रूप में काम किया और कई विभागों को संभाला. वह पिछली बीजेपी (BJP) की नेतृत्व वाली सरकार में विदेश मंत्री थीं. सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) साल 1998 में दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री (Delhi First Woman CM) भी बनी थीं.

यह भी पढ़ेंः 

Bengal SSC Scam: अर्पिता मुखर्जी के पास मिले कैश को लेकर बोले पार्थ चटर्जी, ‘पैसे मेरे नहीं हैं’

Explained: बंगाल से महाराष्ट्र तक ED छापेमारी की चर्चा, जानें प्रवर्तन निदेशालय का इतिहास, ताकत और अधिकार



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.