Howrah Cash Scandal Jharkhand MLAs Not Telling About Recovery Of Huge Cash May Be Arrested Today Ann


Howrah Cash Scandal: झारखंड (Jharkhand) के तीन कांग्रेसी विधायकों (Congress MLAs) को कोलकाता (Kolkata) के हावड़ा में शनिवार को गिरफ्तार किया गया है. इनके पास से काफी संख्या में रुपये बरामद होने की सूचना है. रुपयों की संख्या इतनी ज्यादा है कि उनकी गिनती के लिए मशीन मंगाई गई. इन विधायकोंं का नाम नमन विक्सल कोंगाडी, डा इरफान अंसारी और राजेश कच्छप बताया जा रहा है. जानकारी के मुताबिक हावड़ा के 16 नंबर राष्ट्रीय राजमार्ग पर पुलिस ने इन्हें धर दबोचा और इनसे लगातार पूछताछ की जा रही है.

तीनों विधायक नहीं बता पा रहे-कहां से आए रुपये

झारखंड के तीनों विधायकों से कल रात अलग अलग पूछताछ हुई है. पुलिस सूत्रों के अनुसार पूछताछ में उनकी बातों में अंतर पाया गया है. इसका मतलब ये है कि इनके पास ये पैसा कहां से आया और पैसे लेकर ये कहां जा रहे थे, इस बात पर तीनों के जवाब एक जैसे नहीं हैं. बातों में अंतर होने की वजह से इन तीनों से लगातार पूछताछ लगातार की जा रही है. हालांकि अब थाने पर इरफान अंसारी के कुछ परिवार वाले पहुंचे हैं और उनका कहना है कि अभी तक हर वर्ष वो इसी समय आदिवासियों के लिए खरीदारी करने आते रहे हैं.

हो सकती है तीनों की गिरफ्तारी

विधायकों के वकील का आरोप है कि उन्हें विधायकों से मिलने नहीं दिया गया है. कल रात को इन विधायकों का मेडिकल चेकअप भी हुआ है. आज इन्हें गिरफ़्तार किया जाएगा या नहीं इस बात पर पुलिस अबतक कोई जवाब नहीं दे रही है.

जामताड़ा के तीनों विधायकों के पास से रुपये हुए थे बरामद

झारखंड के जामताड़ा के से तीन कांग्रेसी विधायकों को पश्चिम बंगाल के हावड़ा से पुलिस ने हिरासत में लिया था. ये जिस गाड़ी में जा रहे थे उस गाड़ी से काफी संख्या में रुपयों की बरामदगी हुई थी. ये सभी गाड़ी से पूर्व मिदनापुर की ओर जा रहे थे. शनिवार देर शाम इनकी गाड़ी को पांचला थाना अंतर्गत रानीहाटी मोड़ के पास रोका गया. गाड़ी की तलाशी शुरू हुई तो गाड़ी में भारी मात्रा में कैश रखा हुआ था. 

ये भी पढ़ें:

Howrah: पश्चिम बंगाल में एक और कैशकांड, झारखंड के तीन कांग्रेसी विधायक हिरासत में

Mann Ki Baat: ‘आजादी के 75 साल होंगे पूरे, 15 अगस्त तक अपनी DP पर लगाएं तिरंगा’- मन की बात में बोले पीएम मोदी

 



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.