Delay In The Expansion Of The Council Of Ministers Functioning Of Government Has Not Been Affected Says CM Eknath Shinde


Maharashtra Politics: महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (CM Eknath Sinde) ने शनिवार को कहा कि मंत्रिपरिषद के विस्तार में देरी के कारण राज्य सरकार (State Government) का कामकाज किसी भी तरह से प्रभावित नहीं हुआ है तथा जल्द ही और मंत्रियों को शामिल किया जाएगा. राज्य में 30 जून को हुए सत्ता परिवर्तन के बाद से महाराष्ट्र मंत्रिपरिषद के विस्तार में देरी के संबंध में पूछे गए सवालों के जवाब में शिंदे (CM Eknaht Shinde) ने यह टिप्पणी की. शिवसेना में बगावत के चलते उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था, जिसके बाद शिंदे ने 30 जून को मुख्यमंत्री के रूप में पदभार ग्रहण किया था. 

भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी. शिंदे ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘सरकार का कामकाज किसी भी तरह से प्रभावित नहीं हुआ है. निर्णय लेने की प्रक्रिया प्रभावित नहीं हुई है. मैं और उपमुख्यमंत्री निर्णय ले रहे हैं तथा सरकार के कामकाज पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा है.’ मुख्यमंत्री शनिवार शाम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आजादी का अमृत महोत्सव राष्ट्रीय समिति और रविवार को नीति आयोग की शासी परिषद की बैठक में भाग लेने के लिए राष्ट्रीय राजधानी में हैं.

15 अगस्त से पहले हो सकता है कैबिनेट विस्तार
शिंदे ने कहा, ‘दिल्ली के इस दौरे का संबंध मंत्रिपरिषद के विस्तार से बिलकुल भी नहीं है.’शिवसेना के बागी विधायक और पूर्व मंत्री उदय सामंत ने कहा कि शिंदे के नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल का विस्तार 15 अगस्त से पहले होगा. शिंदे के नेतृत्व वाले शिवसेना के बागी खेमे के प्रवक्ता सामंत ने कहा कि प्रभारी मंत्री स्वतंत्रता दिवस पर अपने-अपने जिलों में तिरंगा फहराएंगे. प्रत्येक जिले की विकास योजनाओं और संबंधित मामलों के लिए प्रभारी मंत्रियों की नियुक्ति की जाती है. यह एक अतिरिक्त जिम्मेदारी है, जो मंत्रिपरिषद के सदस्यों को दी जाती है.

एनसीपी का शिंदे सरकार पर निशाना
महाराष्ट्र की विपक्षी दल राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) ने मंत्रिमंडल विस्तार (Cabinet Expansion) में देरी को लेकर शिंदे नीत सरकार (Shinde Government) पर निशाना साधा और पूछा कि क्या उसे इस कवायद के लिए सही मुहूर्त नहीं मिल रहा है. शरद पवार (Sharad Pawar) के नेतृत्व वाली पार्टी ने कहा कि शिंदे खेमा और भारतीय जनता पार्टी (BJP) दोनों के नेताओं ने बार-बार कहा है कि मंत्रिमंडल (Cabinet) का विस्तार जल्द किया जाएगा, लेकिन अभी तक कुछ भी नहीं हुआ है. 

यह भी पढ़ेंः
Maharashtra: ‘ये विद्रोह नहीं बल्कि शिवसेना के स्वाभिमान की लड़ाई है’,  केसरकर ने उद्धव को दी बीजेपी से गठबंधन की सलाह

Maharashtra Crisis: आदित्य ठाकरे की बागी विधायकों को चुनौती, इस्तीफा देकर चुनाव लड़कर दिखाएं



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.