Central Information Technology Minister On 5g In India, 5G Will Not Cost More


5G Service: केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी (Information Technology) मंत्री अश्विनी वैष्णव (Ashwani Vaishnav) ने कहा है कि देश में 5G की सेवाओं की कीमत भी कम ही होगी. आम आदमी भी 5जी को आसानी से इस्तेमाल कर पाएगा. केंद्रीय मंत्री वैष्णव ने 4 अगस्त 2022 को 5G स्पेक्ट्रम नीलामी की प्रकिया को पूरा करते हुए कहा कि सरकार 12 अगस्त तक 5G स्पेक्ट्रम के आवंटन से संबंधित सभी काम-काज को पूरा कर लेगी, इसके बाद अक्टूबर तक देश में 5जी सेवाओं को शुरू किया जा सकेगा.

अक्टूबर तक देश में 5जी सेवाओं को शुरू करने की योजना

केंद्रीय मंत्री अश्वनी वैष्णव ने कहा, ‘टेलीकॉम कंपनियां देश में जल्द 5जी सेवा शुरू करने की तैयारी पूरी कर लें. कल ही स्पेक्ट्रम नीलामी की प्रकिया की गणना हुई है और आज हमने इसके वितरण को लेकर बैठक भी की है. हम पूरी कोशिश कर रहे हैं कि 5जी सेवाओं को जल्द ही पूरे देश में शुरू कर दिया जाए. हम 12 अगस्त तक स्पेक्ट्रम नीलामी के आवंटन को पूरा कर अक्टूबर तक देश में 5जी सेवाओं को शुरू करने की योजना बना रहे है.’

केंद्रीय मंत्री वैष्णव ने आगे कहा कि टेलीकॉम बाज़ार दुनिया में सबसे सस्ता बाज़ार है. देश में 5G सेवा की कीमतें भी अफोर्डेबल रखी जाएंगी, आम आदमी भी 5G सेवाओं का लाभ उठा पाएगा. इलेक्ट्रोमैग्नेटिक रेडिएशन से नुकसान के सवाल पर केंद्रीय मंत्री वैष्णव ने जवाब दिया कि हमारे यहां रेडियेशन का लेवल अमेरिका और यूरोप से भी 10 गुना कम होगा, जिससे यहां रेडियेशन का खतरा नहीं रहेगा. 

5जी स्पेक्ट्रम में किसकी कितनी हिस्सेदारी

भारत में 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी पूरी हो गई है. देश में कुल 1,50,173 करोड़ रुपये के 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी हुई है. देश की तीन कंपनियों ने सबसे ज्यादा स्पेक्ट्रम अपने नाम किए हैं, जिसमें रिलायंस जियो ने  24,740Mhz स्पेक्ट्रम, भारती एयरटेल ने 19867Mhz स्पेक्ट्रम और वोडाफोन-आइडिया ने 6228Mhz स्पेक्ट्रम खरीदे है.

Twitter ने लॉन्च किया Location Spotlight फीचर, बिजनेस करने वालों के लिए है तोहफा

PowerVolt Router UPS: वाई-फाई राउटर के लिए पावरबैंक लॉन्च, मिलेगा 5 घंटे का बैकअप



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.