CBI Arrested Military Engineering Service Engineer On Disproportionate Assets Case Ann


Disproportionate Assets Case: केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने मिलिट्री इंजीनियरिंग सर्विस (Military Engineering Service) के एक कार्यकारी इंजीनियर के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का मुकदमा दर्ज किया है. इस मामले में इंजीनियर के पिता को कोटा रेलवे स्टेशन (Kota Railway Station) पर लगभग 96 लाख रुपए की मुद्रा के साथ पकड़ा गया था. सीबीआई का आरोप है कि उक्त सरकारी इंजीनियर ने अपनी आय से 134% ज्यादा आय अर्जित की है.

सीबीआई प्रवक्ता आरसी जोशी के मुताबिक जिन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है उनमें मिलिट्री इंजीनियरिंग सर्विस के कार्यकारी इंजीनियर मुकेश मीणा और उनके पिता सीएल मीना और एक अन्य राम अवतार मीणा शामिल है. 

रिश्तेदार की गिरफ्तारी से आया शक के घेरे में
इस मामले में आरोप है कि सरकारी अधिकारी के पिता और एक रिश्तेदार को कोटा रेलवे स्टेशन पर जीआरपी पुलिस द्वारा 95 लाख 89 हजार रुपए की धनराशि के साथ पकड़ा गया था. इस जांच के दौरान पता चला कि यह धनराशि तत्कालीन कार्यकारी इंजीनियर (एमईएस) गोपालपुरा ऑन सी उड़ीसा की है.

आय से अधिक कितने प्रतिशत अर्जित की संपत्ति
इस मामले की जांच के दौरान सीबीआई (CBI) को पता चला कि उक्त लोक सेवक ने 20 मार्च 2012 से 17 फरवरी 2022 के दौरान अपनी आय से लगभग 134% ज्यादा चल अचल संपत्ति अर्जित की. सीबीआई ने इस मामले में आरोपियों के तीन ठिकानों पर छापेमारी की इस दौरान कुछ दस्तावेज बरामद हुए हैं जिनके आकलन का काम किया जा रहा है मामले की जांच जारी है.



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.