Bitcoin Terror Funding Through Bitcoin First Time In India Raids In Poonch Baramulla Kupwara ANN


Terror Funding: जम्मू-कश्मीर पुलिस की राज्य जांच एजेंसी (SIA) ने बिटकॉइन व्यापार के माध्यम से आतंकवाद के वित्तपोषण से संबंधित एक मामले में राज्य के तीन जिलों में सात लोगों के घरों पर छापेमारी की. श्रीनगर के काउंटर इंटेलिजेंस पुलिस स्टेशन में दर्ज एक टेरर फंडिंग मामले की जांच के सिलसिले में मेंढर पुंछ, बारामूला, कुपवाड़ा में संदिग्धों के परिसरों की तलाशी ली गई. जम्मू-कश्मीर में यह पहला पुष्ट मामला है, जहां बिटकॉइन का इस्तेमाल आतंकी फंडिंग के लिए किया गया है.

पाकिस्तान का एक मास्टरमाइंड शामिल
एसआईए के अधिकारियों के अनुसार, “शुरुआती चरण में जिन विवरणों की जांच की जा रही है, उनमें पाकिस्तान का एक मास्टरमाइंड शामिल है, जो पाकिस्तानी खुफिया एजेंसियों के समर्थन के साथ और पाकिस्तान में स्थित आतंकवादी संगठनों के साथ मिलकर ब्लैक मनी भेज रहा है. वहीं जम्मू-कश्मीर में बड़े पैमाने पर हिंसा और आतंकवादी गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए ये पैसे भेजे जा रहे थे. ये पैसा आतंकियों के एजेंट राज्य में इस्तेमाल करते थे.” पुलिस ने कहा, छापेमारी में पाकिस्तानी मास्टरमाइंड पहचाना गया है. हालांकि, हम इनके बारे में नहीं बता सकते. विवरण को गोपनीय रखा जा रहा है, क्योंकि हम उससे जुड़े अन्य एजेंटों को सतर्क नहीं करना चाहते. 

Vice Presidential Election 2022: जगदीप धनखड़ या मार्गरेट अल्वा? AAP ने उपराष्ट्रपति चुनाव में इन्हें समर्थन देने का किया एलान

संदिग्धों के घरों में तलाशी
पुलिस ने कहा कि आज जिन घरों की तलाशी ली गई, उनमें मुतवाली पठान खान की बेटी जाहिदा बानो, गुलाम मुजतबा दीदाद, लोन हरि, कुपवाड़ा के गुलाम नबी दीदाद के बेटे सतकोजी रजवाड़ा, हंदवाड़ा के जाविद अहमद, तमजीदा बेगम, दीवान बाग बारामूला के शम्स-उद-दीन मीर के पुत्र यासिर अहमद मीर, ट्रैजपोरा, बारामूला के शैरीफुद-दीन के पुत्र मोहम्मद सैयद मसूदी, गगरियान के फारूक अहमद और धारणा मेंढर के इमरान चौधरी शामिल हैं. “प्रारंभिक जांच में इस बात के सबूत सामने आए हैं कि पाकिस्तान से आने वाला आतंकी पैसा इन लोगों तक पहुंच गया है.”

छापेमारी में ये उकरण मिले
बुधवार को की गई तलाशी के बारे में पुलिस ने कहा, “डिजिटल उपकरणों, सिम कार्ड, मोबाइल फोन और दस्तावेजों में छिपी हुई मानी जाने वाली सामग्री और जांच पर असर डालने वाली सामग्री बरामद की गई है.  इसमें कहा गया है, “आंकड़ों का विश्लेषण और संदिग्धों से पूछताछ की जाएगी और जो सुराग सामने आएंगे, वे आगे की जांच का आधार बनेंगे.”

National Herald Case: हेराल्ड हाउस स्थित यंग इंडियन के दफ्तर को ईडी ने किया सील, कल ली थी तलाशी

 



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.