Bengal SSC Scam Court Has Sent Arpita Mukherjee And Partha Chatterjee To Judicial Custody Till 18th August | Bengal SSC Scam: पार्थ चटर्जी को 18 अगस्त तक न्यायिक हिरासत में भेजा गया, वकील ने कहा


Bengal Teacher Recruitment Scam: पश्चिम बंगाल के पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी (Partha Chatterjee) और उनकी सहयोगी अर्पिता मुखर्जी (Arpita Mukherjee) को आज कोलकाता के सिटी सेशंस कोर्ट में पेश किया गया. कोर्ट ने दोनों को 18 अगस्त तक न्यायिक हिरासत में भेजा है. इससे पहले कोलकाता की एक विशेष अदालत ने बुधवार को पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी की प्रवर्तन निदेशालय (ED) की हिरासत 5 अगस्त तक बढ़ा दी थी. आज दोनों की हिरासत का समय खत्म हो गया था.

पार्थ चटर्जी को उनकी सहयोगी अर्पिता चटर्जी के साथ स्कूल शिक्षक भर्ती मामले की जांच के सिलसिले में 25 जुलाई को गिरफ्तार किया गया था. आज की सुनवाई में अर्पिता मुखर्जी की वकील ने कहा कि उनकी जान को खतरा है. हम उसके लिए एक डिवीजन 1 कैदी श्रेणी चाहते हैं. उसके भोजन और पानी की पहले जांच की जानी चाहिए और फिर उसे दिया जाना चाहिए. ईडी के वकील ने भी इस दलील का समर्थन किया कि उनकी सुरक्षा को खतरा है क्योंकि 4 से अधिक कैदियों को नहीं रखा जा सकता है.

वहीं पार्थ चटर्जी के वकील ने कहा कि ईडी ने इस मामले में 22 जुलाई को जब उनके घर पर छापा मारा था तो कुछ भी बरामद नहीं हुआ. यदि आप किसी ऐसे व्यक्ति से पूछने की कोशिश करते हैं जो अपराध में शामिल नहीं है, तो वह स्पष्ट रूप से असहयोगी होगा. चटर्जी के वकील ने जमानत याचिका दायर की, वहीं ईडी ने इसका विरोध करते हुए कहा, “जेल हिरासत की आवश्यकता है.” पार्थ चटर्जी के वकील ने कहा कि इस मामले में कोई भी सामने नहीं आया है और ना ही किसी ने ये कहा कि उनसे रिश्वत मांगी थी. 

 



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.