According To Dell Technology India, After The Arrival Of 5G, The Development Of The Country Will Accelerate


5G Spectrum Auction: देश में हाई स्पीड की इंटरनेट सेवा देने के लिए 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी (5G Spectrum Auction) में आंकड़ा 1.5 लाख करोड़ रुपये तक पहुंच चुका है. डेल टेक्नोलॉजी इंडिया (Dell Technology India) के एग्जीक्यूटिव मनीष गुप्ता ने 31 जुलाई 2022 को कहा कि कंपनी जल्द ही भारत के गांवों और शहरों में तेजी से 5जी के विकास की साक्षी होने वाली है. 

मनीष गुप्ता (Manish Gupta) ने कहा, “5जी आने के बाद भारत के विकास में तेजी आएगी. 5जी से देश में एडवांस्ड टेक्नोलॉजी जैसे फास्ट इंटरनेट, इंडस्ट्रियल इंटरनेट ऑफ थिंग, एड्ज कंप्यूटिंग, कृषि क्षेत्र में रोबोटिक्स टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल, ई-कॉमर्स, स्वास्थ्य सेवाओं, शिक्षा और फार्मा जैसे क्षेत्रों में तेजी से विकास देखने को मिलेगा. 5जी से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) को बढ़ाने, इंडस्ट्री में मैन्युफैक्चरिंग कॉस्ट कम करने और गुणवत्ता को बढ़ाने में भी मदद मिल सकेगी”.

5G स्पेक्ट्रम की नीलामी का आंकड़ा 1.5 लाख करोड़ के पार

5G स्पेक्ट्रम की नीलामी में राजस्व के लगातार नए रिकॉर्ड बन रहे हैं. शनिवार तक यह आंकड़ा 1.5 लाख करोड़ के भी पार पहुंच चुका है. सरकार के मुताबिक, नीलामी 2015 के रिकॉर्ड स्तर से भी आगे निकल रही है. 2015 में 4जी स्पेक्ट्रम नीलामी से 1.09 लाख करोड़ रुपये का रिकॉर्ड राजस्व मिला था, जबकि 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी का आंकड़ा इसका लगभग डेढ़ गुना ज्यादा हो गया है. 

26 जुलाई से शुरू हुई 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी

देश में हाई स्पीड की इंटरनेट सेवा (High Speed Internet Service) देने के लिए 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी 26 जुलाई से शुरू हुई है. इस नीलामी में देश के कई दिग्गज बिजनेस मैन जैसे मुकेश अंबानी (रिलायंस जियो), सुनील भारती मित्तल (भारती एयरटेल), वोडाफोन-आइडिया और गौतम अडानी (कंपनी अडाणी एंटाप्राइेज) मौजूद हैं. 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी में 600, 700, 800, 900, 1800, 2100, 2300, 2500, 3300 मेगाहट्र्ज और 26 गीगाहर्ट्ज तक के बैंड शामिल किए गए हैं.

WhatsApp से Telegram में ऐसे करें चैट ट्रांसफर, यहां जानें स्टेप बाय स्टेप



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.