1991 MP Getting Pension In Lok Sabha Secretariat Gave Information In Response To RTI


RTI On MP Pension: देश में कुल 1991 पूर्व सांसद (MP) पेंशन/फ़ैमिली पेंशन पा रहे हैं. इसमें लोकसभा (Loksabha) के 1447 पूर्व सांसद और बाकी बचे 544 राज्यसभा (Rajyasabha) के पूर्व सांसद शामिल हैं. इस बात की जानकारी लोकसभा सचिवालय (Secretariat) ने एक आरटीआई (RTI) के जवाब में दी है. इसके अलावा मई 2022 के दौरान 6.28 करोड़ रुपये पेंशन/पारिवारिक पेंशन के लिए सरकार ने भुगतान किया है.

दरअसल एक एक्टिविस्ट ने RTI डालकर सवाल पूछा था कि देश के सांसदों को कितनी पेशन मिलती है. एक्टिविस्ट ने आरटीआई में पूछा पेंशन प्राप्त करने वाले पूर्व सांसदों की कुल संख्या ब्रेकअप विवरण के साथ दी जाए. इसके अलावा, विभिन्न पूर्व सांसदों को एक माह में वितरित की जा रही पेंशन की कुल राशि कितनी है ये भी बताया जाए. इसके साथ ही सरकार पर इसका कितना भी बोझ पड़ता है ये भी बताया जाए.

अग्निवीरों की पेंशन के साथ उठा ये मुद्दा

केंद्र सरकार ने जब अग्निपथ योजना को लॉन्च किया तब से इसका विरोध हो रहा है. इसी क्रम में अग्निवीर की पेंशन का मुद्दा भी सामने आया और इस वजह से सांसदों की पेशन को लेकर सवाल खड़े कर दिए गए. चर्चा होने लगी कि अगर सांसदों को पेशन दी जा सकती है तो अग्निवीरों को क्यों नहीं. चर्चा में यहां तक कह दिया गया कि सांसदों औऱ विधायकों को पेंशन न दे कर अग्निवीरों को दी जाए. हाल ही में बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने भी कहा था कि सभी देशभक्त सांसद अपनी पेंशन का त्याग करके सरकार का बोझ कम नहीं कर सकते?

वरुण गांधी का समर्थन

इतना ही नहीं उन्होंने अग्निवीरों (Agniveer) की पेंशन को लेकर यहां तक कह दिया कि अगर राष्ट्र रक्षकों को पेंशन (Pension) पाने का अधिकार नहीं है तो मैं खुद अपनी पेंशन छोड़ने को तैयार हूं. इसके अलावा चर्चा में ये भी शामिल रहा कि कई सांसद (MP) अपना कार्यकाल भी पूरा नहीं करते हैं फिर उनको पेंशन की सुविधा दी जाती है.

ये भी पढ़ें: Bundelkhand: खुद को जिंदा साबित करने का संघर्ष और पेंशन की उम्मीद, कब दिल पसीजेगा सरकारी बाबुओं का?

ये भी पढ़ें: Retirement Planning: अगले 5 साल में होने वाले हैं रिटायर तो यहां हैं आपके लिए बेस्ट प्लानिंग टिप्स



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.